आप यहां हैं : होम» धर्म-कर्म

खुले मध्यमहेश्वर मंदिर के कपाट, छह माह यहीं होगी पूजा

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: May 22 2019 1:07PM
temple madmaheshwar_201952213752.jpg
द्वितीय केदार भगवान मध्यमहेश्वर मंदिर के कपाट आज पूर्वाह्न 11 बजकर 30 मिनट पर सिंह लग्न में वैदिक मंत्रोच्चार व पौराणिक रीति रिवाजों के साथ खोले गए. अब छह माह भगवान की पूजा अर्चना यहीं होगी. आज सुबह डोली सात बजे गौंडार से रवाना होकर मन्दिर में पहुंची.

भीषण ठंड भी नहीं रोक पाई बाबा केदार के भक्तों को

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: May 15 2019 10:29AM
kedarnath_2019515102934.jpg
बर्फबारी की वजह से पारा शून्य से नीचे पहुंच गया है. जिससे केदारनाथ पहुंचे रहे श्रद्धालुओं को बर्फबारी के साथ-साथ भयंकर ठंड का भी सामना करना पड़ रहा है, लेकिन इस कड़कड़ाती ठंड और बर्फबारी का श्रद्धालुओं पर कोई असर देखने को नहीं मिल रहा है.

केदार यात्रा में चुनौती बन सकते हैं ग्लेशियर

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: May 12 2019 10:02AM
glacier_201951210214.jpg
केदारनाथ यात्रा का विधिवत आगाज हो गया है. कपाट खुलने के बाद से हजारों की संख्या में श्रद्धालु बाबा केदार के दरबार में पहुंच रहे हैं. लिनचैली से केदारनाथ धाम के बीच ग्लेशियरों से होकर गुजर रहे तीर्थयात्रियों में उत्साह देखने को मिल रहा है. उनकी मानें तो इससे पहले उन्हें ऐसा नजारा कभी देखने को नहीं मिला. कुछ दिनों बाद केदाघाटी में हेलीकाप्टर सेवाएं शुरू होने जा रही हैं. ऐसे में हवाई सेवाओं के गर्जनाओं से ग्लेशियरों के टूटने का खतरा है.

खुल गए माँ यमुना के कपाट

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: May 8 2019 9:57AM
Yamunotri_20195895744.jpg
अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर रोहणी नक्षत्र में कर्क लग्न के साथ मां यमुना के कपाट एक बजकर 15 मिनट पर देश विदेश के श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए. जिसके बाद अब श्रद्धालु अगले 6 महीने तक मां यमुना के दर्शन अब यमुना के ग्रीष्मकालीन प्रवास यमुनोत्री में किये जायेंगे. वहीं कपाट खुलने के पहले दिन यमुनोत्री मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी.

केदारनाथ धाम के लिये रवाना हुई पंचमुखी चल विग्रह उत्सव डोली

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: May 6 2019 8:02PM
kedarnath_20195620219.jpg
केदारनाथ भगवान की पंचमुखी चल विग्रह उत्सव डोली अपने शीतकालीन गद्दीस्थल से केदारनाथ धाम के लिये रवाना हो गई है. डोली रवानगी के अवसर पर शीतकालीन गद्दीस्थल में श्रद्धालुओं का हुजूम उमड़ पड़ा. आर्मी बैंड की मधुर धुनों पर श्रद्धालु बाबा केदार की भक्ति में जमकर झूमते रहे. बाबा को धाम रवाना करते समय श्रद्धालुओं का उत्साह देखते ही बन रहा था.

8 दिन बाद शुरू होगी चार धाम यात्रा

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 28 2019 5:41PM
char dham_201942817415.jpg
चारधाम यात्रा शुरू होने में अब महज आठ दिन का समय बचा है. यमुनोत्री धाम की स्थिति जस की तस बनी हुई है. हालांकि जिम्मेदार नेताओं और अधिकारियों के दौरे शुरू हो गए हैं. इन आठ दिनों में धामों में व्यवस्थाएं कैसे सुधरेंगी और यात्रा कैसे सकुशल संचालित होगी. इसको लेकर चारधाम विकास परिषद के उपाध्यक्ष शिव प्रसाद ममगाईं भी विवश दिखे, और प्रशासन पर सवाल खड़े किए.

शिव की नगरी में गूंजे हनुमान के जयकारे

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 19 2019 5:03PM
hanuman_20194191734.jpg
शिव की नगरी शुक्रवार को पूरी तरह से हनुमान मय हो गयी. हर ओर बजरंगबली के जयकारे गूंज रहे थे. इस दौरान निकली भव्य शोभायात्रा ने काशी की धार्मिक और सांस्कृतिक राजधानी की पहचान का दर्शन कराया. इस शोभायात्रा में हजारों की संख्या में शामिल हुए श्रद्धालुओं ने हनुमान जयंती का उत्सव धूम-धाम से मनाया. मन और शरीर पर आस्था का ऐसा असर रहा कि झुलसा देने वाली धूप में भी श्रद्धालु नाचते-गाते और जयकारे लगाते आगे बढ़ रहे थे. पिछले 15 दिनों से निकल रही हनुमान ध्वजा प्रभात फेरी के अंतिम दिन भक्तों का जन सैलाब उमड़ा.

यमुनोत्री कपाट खुलने से पहले होटलों में शुरू हो गया रंग रोगन

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 17 2019 3:54PM
kashipur_2019417155444.jpg
यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने की तिथि आते ही होटल व्यवसाय करने वालों के चेहरों पर खुशियाँ नज़र आने लगी हैं. यमुनोत्री धाम में यात्रा काल खत्म होने के बाद से धाम के मुख्य पड़ाव जानकीचट्टी में कुछ महीनों से सन्नाटा सा पसरा हुआ था, लेकिन अब जैसे ही यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने की तारीख आयी है तब से बड़कोट से लेकर जानकीचट्टी तक के सभी होटल व्यवसायी अपने व्यापार को बढ़ाने के लिए होटलों को चाकचौबंद और रंग रोगन करना शुरू कर दिया है.

अगले महीने शुरू होगी चार धाम यात्रा

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 15 2019 3:41PM
char-dham_2019415154110.png
उत्तराखंड में चार धाम यात्रा एक महीने बाद शुरू होने जा रही है, लेकिन अभी तक यात्रा को सुचारू रूप से चलाने के लिए कोई भी कार्य नहीं किया गया है. वहीं चार धाम यात्रा को लेकर मंदिर समिति भी लगतार तैयारियों में जुटी हुई है.

जीवन की कठिनाइयों से छुटकारा दिलाती हैं माँ कालरात्रि

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 12 2019 5:43PM
Maa-Kalratri_2019412174345.jpg
देवी के सप्तम स्वरूप माँ कालरात्रि के दर्शन से सभी कठिनाइयों से छुटकारा मिल जाता है. नवरात्र में आज माँ के सप्तम रूप का दर्शन हो रहा है. तो आइये हम आपको ले चलते हैं धर्म नगरी काशी की कलिका गली जहाँ माँ कालरात्रि देवी का भव्य और अति प्राचीन मंदिर विद्यमान है.

मान की रक्षा करती हैं माँ स्कन्द माता

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 10 2019 12:08PM
skandmata_201941012834.jpg
नवरात्रि देवी दर्शन के लिए भक्तों की भीड़ माँ बागेश्वरी देवी के मंदिर में उमड़ पड़ी है. नवरात्र देवी के पाचंवे स्वरूप माँ स्कंदमाता के रूप का दर्शन का विधान है. वाराणसी में माँ स्कंदमाता बागेश्वरी देवी के रूप में विद्यमान है. यहाँ माँ स्कंदमाता का बागेश्वरी रूपी भव्य मंदिर मंदिर अति प्राचीन है. रात से ही यहाँ माँ के दर्शनों के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ती है.

माँ के चन्द्रघंटा स्वरूप के दर्शन से पूरी होगी हर मनोकामना

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 8 2019 12:05PM
chandraghanta_20194812553.png
वासंतीय नवरात्र के तीसरे दिन माँ चन्द्र घंटा देवी के दर्शन का महत्व है. माँ का अति प्राचीन मंदिर वाराणसी के चौक क्षेत्र में स्थित है. माँ चन्द्र घंटा के घंट में चन्द्रमा है और माँ युद्ध की मुद्रा में बैठी है. इसी कारण माँ के दर्शनों से आपके शत्रुओं का नाश होता है.

माँ ब्रह्मचारिणी के पूजन से रुके हुए काम भी बन जाते हैं

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 7 2019 12:20PM
brahmacharini mata_201947122029.jpg
मां दुर्गा की आराधना का महापर्व शुरू हो चुका है. देवी के नौ रूपों की पूजा इन नौ दिनों में की जाती है. पूरे देश की तरह ही वाराणसी के नौदुर्गा मंदिरों में भी भक्तों का तांता लगा हुआ है. मान्यता है कि नवरात्र में दूसरे दिन माता ब्रह्मचारिणी के दर्शन का विधान है. वाराणसी में मां का मंदिर ब्रम्हा घाट पर स्थित है. नवरात्र के दूसरे दिन यहां भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी है.

इनके दर्शन मात्र से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Apr 6 2019 12:33PM
Navratri_201946123350.jpg
आज से चैत्र नवरात्रि का शुभारंभ हो गया है. नवरात्र के पहले दिन देवी मां के पहले स्वरूप शैलपुत्री की पूजा अर्चना की जाती है. नवरात्रों में देशभर के मंदिर सजाए जाते हैं, जहां पूरे नौ दिन मां के सभी रूपों की पूजा की जाती है. काशी के अलइपुरा इलाके स्थित देवी शैलपुत्री मंदिर में भक्तों की काफी भीड़ उमड़ रही है. दूर-दराज से श्रद्धालु देवी मां के दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं. भक्त मां शैलपुत्री से अपने परिवार की सुख-शांति की मन्नतें मांग रहे हैं. वहीं पुलिस प्रशासन द्वारा मंदिरों में सुरक्षा कर्मी तैनात किए हैं, ताकि किसी प्रकार की कोई अनहोनी घटना न हो पाए.

30 फुट ऊंची धधकती आग की लपटों के बीच से निकला पंडा

Reported by nationalvoice, Edited by shabahat.vijeta, Last Updated: Mar 21 2019 2:54PM
holi-2_2019321145436.jpg
जिले के गांव फालैन में गुरुवार को आज सुबह 4 बजे वर्षों पुरानी परम्परा को साकार करते हुए अनोखी होली मनाई गई. बाबूलाल पंडा 30 फुट ऊंची धधकती आग की लपटों के बीच से निकला. यह अद्भुत नजारा देखने को श्रद्धालुओं और आसपास के लोगों का विशाल हुजूम उमड़ा.
Total 231 records | Page: 1 of 16       Next >     Last >>