आप यहां हैं : होम» राज्य

प्रसव पीड़ा से तड़पती नाबालिग को दुत्कारता रहा अस्पताल

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Feb 22 2018 3:37PM
kushinagar-2_2018222153739.jpg

कुशीनगर. कच्ची उम्र की नादानी और प्रेमी के धोखे ने एक नाबालिग को कहीं का नहीं रखा. कुशीनगर जिले के विशुनपुरा थाना क्षेत्र की रहने वाली नाबालिग  बुधवार को कुआंरी मां बनने को विवश हो गई. जिला अस्पताल के फर्श पर आज उसने एक पुत्र को जन्म दिया. पुलिस, डॉक्टर और नर्स भी कम बेरहम नहीं निकले.

प्रसव पीड़ा से कराह रही नाबालिग को पुलिस जिला अस्पताल के गेट पर छोड़ कर चली गई और धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर व नर्स नाबालिग का इलाज करने की बजाय उसे दुत्कार कर भगाते रहे. अस्पताल में नाबालिग छटपटाती रही और नर्सें इलाज करने के बजाय ताना मारती रहीं. किसी तरह से नाबालिग की मां ने प्रसव कराया.

विशुनपुरा थाने के एक गांव की रहने वाली नाबालिग की दोस्ती धर्मेंद्र नाम के एक युवक से करीब एक वर्ष पहले हो गई. अल्पसंख्यक बिरादरी से ताल्लुक रखने वाली नाबालिग युवक की चिकनी-चुपड़ी बातों में आ गई और वह गलती कर बैठी जो उसे नहीं करना चाहिए थी. धूर्त युवक शादी का झांसा देकर नाबालिग की अस्मत लूटता रहा. दोनों के अवैध संबंधों की निशानी जगजाहिर होने पर पहले तो इधर-उधर की बातें कर नाबालिग को टरकाता रहा. पीड़िता ने जब शादी के लिये दबाव बनाया तो युवक ने दो सम्प्रदाय का  बहाना बनाकर शादी करने से इंकार कर दिया.

मामला थाने तक पहुंचा तो विशुनपुरा थाने की पुलिस पहले तो समझौता के लिए दबाव बनाती रही लेकिन जब पीड़ित पक्ष समझौते के लिए तैयार नहीं हुआ तो 19 फरवरी को पुलिस ने धर्मेंद्र को जेल भेज दिया. थाने में ही नाबालिग की तबीयत खराब हो गई. पुलिस ने उसे सीएचसी दुदही में भर्ती करा दिया. प्रसव पीड़ा बढ़ने और नाबालिग की हालत खराब होने पर डॉक्टर ने नाबालिग को जिला अस्पताल के लिये रेफर कर दिया.  20 फरवरी की शाम को पुलिस नाबालिग को जिला अस्पताल के गेट पर छोड़कर खिसक ली. पुलिस से ज्यादा बेरहम  धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर व नर्स निकली. दर्द से बेहाल नाबालिग की दवा करने की बजाय दुत्कार कर खदेड़ दिया. अस्पताल में नाबालिग प्रसव पीड़ा से बेहाल रही लेकिन दर्द से छटपटाती नाबालिग की दवा करने की बजाय नर्सें ताना मारती रहीं. किसी तरह से नाबालिग की मां ने खुद प्रसव कराया. प्रसव होने के बाद आज नाबालिग को किसी तरह से बेड नसीब हुआ. इस मामले पर न पुलिस कुछ बोलने को तैयार है न ही स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।