आप यहां हैं : होम» राज्य

फिर फिसल गई सीएम रावत की ज़बान

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Sep 10 2018 4:55PM
cm ravat_201891016557.jpg

पंकज राणा

देहरादून.  “एनडीए बुझा बुझा सा है, उसके पास कोई नेतृत्व ही नहीं है” यह कहना है उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का. आप सोच रहे होंगे कि बीजेपी शासित राज्य के मुख्यमंत्री का भला यह कैसा बयान है. तो साहब यह बयान 16 आने सच है.

दरअसल मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मीडिया के सामने बयान देते देते वक्त यह भूल गए की उन्हें यूपीए कहना है या एनडीए. हैरानी की बात यह है कि बयान देने के बाद सीएम को भी यह मालूम नहीं हुआ कि उन्होंने क्या कहा है. सीएम का यह बयान दो दिन पहले का है.

सीएम 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर बात कर रहे थे. जिसमें पहले उन्होंने कहा कि आने वाले चुनावों में रिजल्ट बिलकुल साफ़ है कि भारतीय जनता पार्टी और एनडीए के पास बहुत चमकीला नेतृत्व है. इसके तुरंत बाद सीएम त्रिवेंद्र फिर से यह बोल गए कि जो एनडीए है. उसके पास कोई नेतृत्व ही नहीं है. और जो है भी वह बहुत बुझा बुझा सा है. इसके बाद सीएम बयान देकर आगे बढ़ गए.

यह कोई पहला मामला नहीं है जब सीएम  बोलना कुछ और चाह रहे हों और बोल कुछ और गए हों. इससे पहले भी वह बारिश और आपदा का बयान देते हुए यह बोल गए थे कि प्रभु की कृपा से बहुत नुकसान हुआ है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।