आप यहां हैं : होम» राज्य

चार मासूमों को अपना निवाला बना चुका है गुलदार

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Oct 4 2018 1:19PM
Guldar_2018104131923.jpg

बागेश्वर. जिले के कई क्षेत्रों में हिंसक गुलदार का आतंक बना हुआ है. कई लोगों पर जानलेवा हमला कर चुका गुलदार अब तक चार मासूम बच्चियों को निवाला बना चुका है. इलाके में एक गुलदार ने एक व्यक्ति जगदीश सिंह पर जानलेवा हमला कर दिया. बुरी तरह घायल जगदीश सिंह को ग्रामीणों ने जिला अस्पताल पहुंचाया. जहाँ उसका इलाज चल रहा है.

घायल को बचाने के लिए 80 से अधिक टांके लगाए जा चुके हैं. वहीं वन विभाग के अधिकारियों से जब इस बारे में बात की गयी तो उन्होने गुलदार को जल्द पकड़ने की बात कही.

बागेश्वर के कई क्षेत्रों में हिंसक गुलदार की धमक बनी हुई है. गुलदार अब तक कई लोगों पर जानलेवा हमला कर चुका है, जबकि चार बच्चियों को निवाला बना चुका है. ताजा मामला आज दोपहर बाद का है.

चौरा क्षेत्र में एक गुलदार ने 48 वर्षीय व्यक्ति जगदीश सिंह पर जानलेवा हमला कर दिया. हमले से बुरी तरह घायल व्यक्ति को ग्रामीण जिला अस्पताल लाये जहां उसका इलाज चल रहा है. डाक्टरों के मुताबिक घायल व्यक्ति को गुलदार ने जगह जगह नाखूनों से जख्मी किया हुआ है. काफी मात्रा में खून बहने से व्यक्ति की हालत नाजुक बनी हुई है. अभी तक घायल को बचाने के लिये 80 टांके लगाये जा चुके हैं. फिलहाल उपचार जारी है.

आपातकालीन चिकित्सा केन्द्र में घायल का इलाज कर रही डॉ. राशिदा ने बताया कि घायल की हालत पर नियंत्रण नहीं हुआ तो हायर सेंटर रेफर करने की व्यवस्था की जायेगी. वहीं, हमले की सूचना सुबह 5 बजे मिलने के बाद भी वन कर्मचारी और वनाधिकारी करीब शाम 3 बजे पहुंचे. अगर वन विभाग अपना कार्य समय से करता तो गुलदार व्यक्ति पर हमला नहीं कर पाता. कर्मचारियों ने जंगल में गश्त करनी शुरू कर दी है.

उन्होंने बताया कि जिस तरह से ग्रामीणों ने जानकारी दी है उससे लगता है कि गुलदार या तो काफी उम्र का है या फिर उसे चोट लगी हुई है. गुलदार को जल्द पकड़ लिया जायेगा. आपको बता दें कि बागेश्वर में गुलदार के हमले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. सितम्बर महीने में गुलदार ने दो बच्चियों पर हमला कर निवाला बनाया था. गुलदार अब तक जिले में चार बच्चों की जानें ले चुका है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।