आप यहां हैं : होम» राज्य

11 हज़ार बेटियों ने रचा इतिहास

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Oct 11 2018 4:45PM
hardoi-2_2018101116452.jpg

नितेश चन्द्र शुक्ल

हरदोई. जिले में आज अलग-अलग स्कूलों की 11 हजार से अधिक बेटियों ने एक साथ एकत्र होकर बेटी बचाने और बेटी पढ़ाने की शपथ लेकर इतिहास रचा. अब इस इतिहास को गिनीज बुक में वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज कराने का दावा किया जाएगा. गौरतलब है की आज पूरा विश्व सातवां अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस मना रहा है. इसी अंतर्राष्ट्रीय दिवस को यादगार बनाने के लिए जिला प्रशासन की पहल पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था.

गिनीज वर्ल्ड बुक रिकॉर्ड में दावा करने के लिए पूरे कार्यक्रम की वीडियोग्राफी और एक-एक बच्चे का रिकार्ड लिया गया है. इस मौके पर यूरेशिया वर्ल्ड रिकार्ड के प्रतिनिधि भी मौजूद थे.

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस को यादगार बनाने के लिए शहर के स्थानीय जीआईसी ग्राउंड पर ग्यारह हज़ार से अधिक बालिकाओं ने  ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का संदेश पेंटिंग के माध्यम से दिया. विभिन्न स्कूलों से आयी इतनी बड़ी संख्या में बालिकाएँ एक ही स्थान पर पेंटिंग के माध्यम से एक सम्यक संदेश दे रही हैं.

यह बेटियां जनपद के अलग अलग स्कूलों से आयीं हैं जिनकी संख्या 11 हजार के करीब है, बेटियों ने एक साथ एकत्र होकर पेंटिंग के माध्यम से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का सन्देश दिया. इस मौके पर सभी बेटियों ने बेटी बचाने बेटी पढ़ाने का संकल्प भी लिया. जिला प्रशासन का दावा है की एक साथ इतनी बड़ी संख्या में बेटियों के लिए आयोजित इस कार्यक्रम की पूरी वीडियोग्राफी कराई गयी है. एक एक बच्ची का रिकार्ड रखा गया है और आज का कार्यक्रम अपने आप में अनूठा विश्व रिकार्ड है. इसको गिनीज बुक के विश्व रिकार्ड के रूप में शामिल करने के लिए दावा किया जाएगा.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।