आप यहां हैं : होम» धर्म-कर्म

6 दिसम्बर के बाद अयोध्या कूच करेंगे संत

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Nov 28 2018 10:09AM
6 december_2018112810938.jpg

हरिद्वार. एक बार फिर राम मंदिर निर्माण को लेकर हरिद्वार में संत समाज के स्वर मुखर होने शुरू हो गए हैं. वहीं इस बार अखाड़ों के महामंडलेश्वर के अलावा योग गुरु बाबा रामदेव ने भी सरकार को दो टूक कह दिया है कि यदि अब भव्य राम मंदिर का निर्माण नहीं होता तो संत 6 दिसम्बर के बाद अयोध्या कूच करेंगे, साथ ही योग गुरु ने कहा कि केन्द्र और प्रदेश में दोनों जगह योगी और मोदी जी की सरकार है, अगर इसके बाद भी राम मंदिर नहीं बनता तो जनता का विश्वास बीजेपी से उठ जाएगा.

अग्नि अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद महाराज ने बोला कि 6 दिसम्बर तक यदि भारत सरकार अपना निर्णय मंदिर मुद्दे पर नहीं देती तो देश का साधु संत खुद अंतिम निर्णय लेने के लिए मजबूर होगा. जिसको देखते हुए ही 6 दिसम्बर के बाद स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी भी राम मंदिर निर्माण को लेकर अनशन करने की बात केन्द्र सरकार को बता चुके हैं.

केन्द्र और प्रदेश सरकार के सुर में सुर मिलाकर चलने वाले योग गुरु बाबा रामदेव के सुर इन दिनों राम मंदिर निर्माण को लेकर कुछ तल्ख नजर आ रहे हैं. योग गुरु ने साफ कहा कि केन्द्र और प्रदेश में दोनों जगह योगी और मोदी की सरकार है, इसके बावजूद यदि राम मंदिर नहीं बनता तो जनता का विश्वास बीजेपी से उठ जाएगा.

यदि बिना कोर्ट के आदेश के राम मंदिर आम जनता बनाती है तो उससे माहौल बिगड़ जाएगा इसलिए कानून लाकर राम मंदिर का निर्माण का रास्ता साफ करना चाहिए. अग्नि अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद महाराज ने दो टूक कहा कि 6 दिसम्बर तक अगर भारत सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए कोई निर्णय ले लेती है तो ठीक है, नहीं तो देश का साधु संत कोई अंतिम निर्णय लेने के लिए मजबूर होगा, और तमाम संत समाज के साथ कोई बड़ा निर्णय लेंगे.

उन्होंने कहा कि 6 दिसम्बर के बाद स्वामी सत्यमित्रानंद गिरी भी राम मंदिर निर्माण को लेकर अनशन करने की बात केन्द्र सरकार को बता चुके हैं.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।