आप यहां हैं : होम» राज्य

बच्चो का धर्म परिवर्तन कराने के मुद्दे पर बजरंग दल का हंगामा

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Dec 26 2018 10:59AM
dhrmparivartan_20181226105924.jpg

हरिद्वार. बच्चो का धर्म परिवर्तन कराने के मुद्दे को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने काफी हंगामा मचाया. बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को सूचना मिली थी कि 300 से ज्यादा बच्चो को बसों में बैठाकर धर्म परिवर्तन कराने के लिए देहरादून लेकर जाया जा रहा है. सूचना मिलते ही बजरंग दल के कार्यकर्ता चंडीगढ़ पुलिस चौकी पर पहुंच गए. जहाँ उन्होंने बस रुकवा कर बच्चो से पूछा तो उन्होंने बताया कि हम क्रिसमस के कार्यक्रम में देहरादून जा रहे हैं. इसके बाद बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने मौके पर ही हंगामा शुरू कर दिया.

भाजपा और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने चंडी घाट के पास 4 बसों को रोका तो उसमें करीबन 300 बच्चो को हरिद्वार से देहरादून ले जाया जा रहा था. बजरंग दल के प्रदेश संयोजक अनुज वालिया ने कहा कि संदीप नाम का युवक काफी समय से इन बस्तियों से बच्चो को धर्मांतरण के लिए हरिद्वार से देहरादून चर्च में ले जाता है. वहां उनको जल पिलाकर नेम करते हैं. जब हम आज मौके पर पहुंचे तो हमने देखा कि चार बसों में बच्चों को ठूस ठूस कर भरा गया है और जब हमने पूछा तो उन्होंने कहा कि हमें हर साल देहरादून ले जाया जाता है.

अनुज वालिया ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि वहां इन बच्चो का यौन शोषण भी किया जाता है. इनको अनेक प्रकार के ईसाई धर्म से जुड़े साहित्य दिए जाते हैं, और पादरी उनको समझाने के बहाने अकेले कमरे में ले जाकर उनका यौन शोषण करते हैं. बजरंग दल ने इसका विरोध किया है और बस को रोककर बच्चों को उनके घर पर वापस भेजा है और दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को लेकर तहरीर दी है.

बच्चो के धर्म परिवर्तन के मामलों पर भाजपा युवा मोर्चा के मंडल महामंत्री मनीष गुप्ता ने कहा कि मुझे इसकी सूचना तीन-चार दिन पहले मिली थी कि बच्चों को बस में बिठा कर धर्म परिवर्तन के लिए देहरादून लेकर जाया जाएगा. फिर मैंने क्षेत्र में जाकर इसकी जांच पड़ताल की और मुझे कुछ ऐसे बच्चे मिले जिन्होंने मुझे बताया कि देहरादून ले जाकर क्या-क्या किया जाता है.

बच्चों को वहां पर जल पिलाकर प्रार्थना करके कसमें खिलाई जाती हैं. इस तरह से उनको हिंदू धर्म से ईसाई धर्म में परिवर्तित किया जाता है, और आज चार बसों में 300 से 350 बच्चों को जानवर की तरह ठूस ठूस कर उनको देहरादून ले जाया जा रहा था, हमने इसका विरोध किया और दोषियों के खिलाफ प्रशसन से कड़ी कार्रवाई की मांग की.

बीजेपी कनखल मंडल मंत्री शुभम झा का कहना है कि हमें दो-तीन दिन पहले ही इसकी सूचना थी कि धर्म परिवर्तन का कार्यक्रम किया जा रहा है और वह सारा कार्यक्रम संदीप नाम का एक युवक कर रहा है. इसमें हमने तहकीकात की तो मामला सही सही पाया गया. हमारे और बजरंग दल के द्वारा यहाँ संयुक्त रूप से कार्रवाई की गई जब संदीप मौके पर नहीं मिला तो मुझे उसके जहाँ होने की सूचना मिली मैं वहां गया तो संदीप ने मेरे साथ मारपीट की. यह संदीप इस क्षेत्र में बच्चो को ट्यूशन पढ़ाता है और इसी कारण यह बच्चो को यहां से ले जाकर धर्म परिवर्तन करवाता है. मेरे द्वारा थाने में तहरीर दी गई है.

वहीं इस मामले पर पुलिस का कहना है की हमको सूचना मिली थी संदीप नामक कोई व्यक्ति है जिसने चंडीगढ़ चौक इलाके में शुभम झा के साथ मारपीट की है और हमारे द्वारा मौके पर जाकर तफ्तीश की गई है कि ऐसी घटना हुई है हम संदीप को थाने ले कर आए हैं, और आगे कार्रवाई की जा रही है. उन्होंने बताया कि जो धर्म परिवर्तन का मामला आया है उस पर भी हमारे द्वारा तफ्तीश की जा रही है कि आखिर यह मामला सही है या गलत. अगर मामला सही है तो कार्रवाई की जाएगी.

बजरंग दल द्वारा इस मामले पर पुलिस को तहरीर दी गई है कि जल्द से जल्द इस मामले पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए. पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।