आप यहां हैं : होम» राज्य

ताज की सुरक्षा में सेंध लगाने वाले चाइना के थे

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jan 19 2019 2:47PM
tajmahal_2019119144720.jpg

आगरा. ताजमहल की सुरक्षा में 2 दिन तक लगातार सेंध लगाने वाले आरोपितों को पुलिस ने पहचान लिया है. मामले की जांच में पुलिस ने पता लगाया है कि ताज की सुरक्षा में सेंध लगाने वाला ड्रोन शिल्पग्राम के नजदीक होटल अमन होमस्टे गेस्ट हाउस से उड़ाया गया था.

चाइना से आए दो पर्यटकों ने होटल अमन स्टे की छत से पिछले दो दिन लगातार ड्रोन उड़ाकर ताजमहल की सुरक्षा में सेंध लगाई थी. जिसके बाद से ताज सुरक्षा पुलिस और सीआईएसएफ में हड़कंप मच गया था. ड्रोन उड़ाए जाने के बाद से पुलिस ड्रोन की तलाश में जुटी हुई थी और कई होटलों की सघन तलाशी भी ली गयी थी लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लगा था. बाद में पुलिस की जांच लगातार चलती रही और इस मामले में कार्रवाई करते हुए ताजगंज पुलिस ने होटल अमन स्टे होम की संचालिका से पूछताछ करने के साथ उसके खिलाफ विधिक कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है.

सीओ सदर उदय राज सिंह का कहना है कि होटल संचालिका के खिलाफ़ विधिक कार्रवाई की जा रही है. दोनों पर्यटक बनारस चले गए हैं. इस मामले में जिलाधिकारी को होटल का लाइसेंस निरस्त करने के लिए रिपोर्ट भेजी जा रही है.

ताज की सुरक्षा में सेंध लगाने के बाद चाइनीज पर्यटक बनारस की ओर निकल गए हैं, लेकिन जाते जाते यह सवाल छोड़ गए हैं कि आखिर लगातार ड्रोन उड़ाकर ताज की हर तस्वीर खींचने के पीछे इन पर्यटकों का मकसद क्या था. क्या यह महज फोटोग्राफी भर थी या फिर ड्रोन उड़ाने वालों ने सोची समझी साजिश के तहत ताज की सुरक्षा में सेंध लगाकर जानकारियां हासिल की हैं. यह मामला इसलिए भी गंभीर हो गया है, क्योंकि 20 जनवरी को डेनमार्क के प्रधानमंत्री ताज का दीदार करने आगरा आ रहे हैं.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।