आप यहां हैं : होम» राज्य

आयुष्मान हेल्थ कार्ड के नाम पर ग्रामीणों से ठगे गए लाखों रुपये

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Apr 13 2019 6:56PM
aayushman_2019413185633.jpg

शाहजहांपुर. जिले में आयुष्मान हेल्थ कार्ड के नाम पर ग्रामीणों से ठगी का मामला सामने आया है. पूरा मामाला बिलंदपुर गोटिया गांव का है. बताया जा रहा है कि 4 दिन पहले गांव में तीन युवक आए और उन्होंने खुद को आयुष्मान भारत से जुड़ा अधिकारी बताते हुए  लोगों से आयुष्मान कार्ड बनवाने को कहा. जिसके बाद तीनों युवकों ने ग्रामीणों से उनका आधार कार्ड लेकर इलेक्ट्रॉनिक मशीन में उनका अंगूठा लगवा लिया. युवकों के जाने के बाद ग्रामीणों के अकाउंट से पैसे काट लिए गए. जब ग्रामीणों के पास पैसे कटने का मैसेज आया तब जाकर मामले का खुलासा हुआ.

ग्रामीणों के अकाउंट से 20 से तीस हजार तक कैश निकाला लिया गया. बैंक से रुपए कटने का मैसेज आने पर ग्रामीणों के होश उड़ गए. बैंक जाकर पता किया तो उनके हाथों से 20000 से लेकर 30000 के बीच की नकदी ठगों ने निकाल ली. अपने साथ आयुष्मान कार्ड के नाम पर हुई ठगी के बाद पीड़ित थाने के चक्कर लगा रहे हैं. लेकिन चुनाव के चलते हैं पीड़ितों को मामले में कोई बेहतर कानूनी मदद नहीं मिल पा रही है. ऐसे में अगर छानबीन की जाए तो सरकार की महत्वपूर्ण योजना के नाम पर ठगी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सकती है. फिलहाल पुलिस जांच के बाद कार्रवाई की बात कर रही है.

बताया जा रहा है कि 4 दिन पहले एक बाइक से तीन युवक गांव पहुंचे. जिन्होंने अपने आप को आयुष्मान कंपनी का अधिकारी बताकर लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाने की बात कही. जिसके बाद ठगों ने ग्रामीणों के आधार कार्ड लेकर उनसे इलेक्ट्रॉनिक मशीन पर अंगूठा लगवा लिया, और गांव से चले गए. बैंक से 20000 से लेकर 30000 के बीच रुपए कटने का मैसेज आने पर ग्रामीणों की होश उड़ गए. बैंक जाकर पता किया तो उनकी गाढ़ी कमाई ठगों ने निकाल ली थी. अपने साथ आयुष्मान कार्ड के नाम पर हुई ठगी के बाद पीड़ित थाने के चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन चुनाव के कारण पीड़ितों को मामले में कोई बेहतर कानूनी मदद नहीं मिल पा रही है. ऐसे में अगर छानबीन की जाए तो सरकार की महत्वपूर्ण योजना के नाम पर ठगी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सकती है. फिलहाल पुलिस जांच के बाद कार्रवाई की बात कर रही है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।