आप यहां हैं : होम» राज्य

सबकी निगाह भारत और गोरखपुर पर लगी है : योगी आदित्यनाथ

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Apr 27 2019 11:00AM
gkp-yogi_201942711051.jpg

गोरखपुर. प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज वैष्णवी लान में छात्र नेताओं के सम्मेलन में कहा कि चौबीस घंटे की नोटिस में छात्र नेताओं की उपस्थिति पर साधुवाद देता हूं. दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में सामान्य निर्वाचन की कार्रवाई चल रही है. सबकी निगाह भारत और गोरखपुर पर लगी है.

योगी ने कहा कि आजादी के बाद का पहला चुनाव है जब प्रधानमंत्री के खिलाफ कोई नकारात्मक फैक्टर नहीं है. पहले ऐन्टी कम्पेनसिव फैक्टर नहीं है, आजादी के बाद इन 72 वर्षों में हम लोगों ने जो भी सरकारें देखी हैं, कमोवेश पूरा देश भारत का हर नागरिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को फिर से पीएम देखना चाहता है.

भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, लेकिन भारत के सबसे बड़े लोकतंत्र में सबसे बड़े पर्व में सबसे बड़ी भूमिका किसकी है, हम लोग इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र भी है, और सबसे बड़ा युवा का राष्ट्र है, हमारी 65 फीसदी आबादी 16 से 45 वर्ष के बीच की है. यानी इतनी बड़ी आबादी 18 वर्ष से 45 साल का युवा किसी भी सरकार को बना और बिगाड़ सकता है.

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने मोदी जी के नेतृत्व की सरकार आने के बाद योजनाओं का केन्द्र बिंदु व्यक्ति परिवार जाती मजहब नहीं है. हमने कहा विकास सबका तुष्टिकरण किसी का नहीं, इसको लेकर जो मोदी सरकार ने काम किया उसका परिणाम आज पूरे देश में देखने को मिल रहा है, गरीबों के लिए तमाम योजनाएं लाई गई हैं. इन योजनाओं के अंतर्गत युवाओं को आर्थिक स्वावलंबन की ओर बढ़ाया जा रहा है. वह किसी कम्पनी के पास नहीं जा रहा है. उसकी थोड़ी से मदद से, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टार्टअप और स्किल डेवलपमेंट से उन्हें नया मौका मिला है. 5 साल में दुनिया नए भारत को आश्चर्य से देख रही है.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज से पाँच वर्ष पहले इस देश के 270 जिले आतंकवाद और नक्सलवाद की चपेट में थे, आज ये घट कर पाँच से छह जिलों में हो गया है. विश्वास करिए, एक बार फिर मोदी जी को देश का प्रधानमंत्री बनने दीजिये. आतंकवाद, नक्सलवाद, अलगावाद सैदव के लिए भारत की धरती से समाप्त हो जाएगा. उत्तर प्रदेश में पहली बार एसा होगा, जब इतनी बड़ी आबादी तकरीबन 3 करोड़ नौजवान 2019 में मतदान करने जा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि आज कांग्रेस हो, सपा-बसपा का गठबंधन हो या अन्य दल एक नकारात्मक राजनीति के साथ जाति मजहब की राजनीति करने के साथ बेईमानी और पराकाष्ठा के देश की संसाधनों को लूट खसोट करने वाले नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाले प्रदेश के अंदर और देश के अंदर बेईमानी और भ्रष्टाचार की नई-नई तरकीब निकालने के साथ ही माहौल खराब करने वाले लोग आतंकवाद के प्रति भी वोट बैंक को जोड़ना चाहते हैं. उनकी मंशा का आप अनुमान लगा सकते हैं. कांग्रेस का घोषणा पत्र इस बात को प्रमाणित करता है, कांग्रेस के घोषणा पत्र में अगर वो सरकार बनायेंगे, तो देशद्रोह की धारा समाप्त कर देंगे. यानि नक्सलियों को खुले आम प्रोत्साहित करने का हिस्सा है.

अगर उनकी सरकार बनेगी, तो सेना के विशेष अधिकारियों को जम्मू कश्मीर के अंदर आतंकवादियों का सफाया कर रही है, पूर्वोत्तर के क्षेत्रों में आतकवाद का सफाया कर रही हैं. उन अधिकारों को समाप्त कर फिर से आतंकवाद और अलगावाद को भड़काने का काम कांग्रेस करने जा रही है. सपा बसपा की कार्य पद्धति तो आपने देखी होगी. उत्तर प्रदेश की देश पर प्रदेश में पहचान क्या, अयोध्या में भगवान राम की जन्म स्थली मथुरा में भगवान कृष्ण की जन्म स्थली काशी भगवान विश्वनाथ की स्थली गोरखपुर में भगवान गोरखनाथ की स्थली कुशीनगर में भगवान बुद्ध की स्थली से ही तो पहचान है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।