आप यहां हैं : होम» धर्म-कर्म

खुल गए माँ यमुना के कपाट

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: May 8 2019 9:57AM
Yamunotri_20195895744.jpg

उत्तरकाशी. अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर रोहणी नक्षत्र में कर्क लग्न के साथ मां यमुना के कपाट एक बजकर 15 मिनट पर देश विदेश के श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए. जिसके बाद अब श्रद्धालु अगले 6 महीने तक मां यमुना के दर्शन अब यमुना के ग्रीष्मकालीन प्रवास यमुनोत्री में किये जायेंगे. वहीं कपाट खुलने के पहले दिन यमुनोत्री मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी, लेकिन प्रशासन की व्यवस्थाओं को देखकर श्रद्धालुओं ने स्थानीय प्रशासन व सूबे की सरकार के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि धाम में दर्शन करना किसी जोखिम उठाने से कम नहीं है.

कपाट खुलने पर देश-विदेश से आये सभी श्रद्धालुओं ने स्थानीय प्रशासन व सूबे की सरकार के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि धाम में दर्शन करना किसी जोखिम उठाने से कम नहीं है. न तो मुसाफिरों के लिए आने जाने के रास्ते सुरक्षित हैं और न खड़े रहने के लिए स्थान.

श्रद्धालु कहते हैं कि यात्रा सुरक्षित कह कर प्रशासन सभी श्रद्धालुओं के छल कपट कर रहा है, क्योंकि यमुनोत्री धाम में पिछले साल आयी आपदा के ज़ख्म जस का तस स्थिति में है. मंदिर समिति ने भी स्थानीय प्रशासन व सरकार के प्रति नाराज़गी जाहिर करते हुए कहा कि प्रशासन की सुस्त चाल व लापरवाही का इस वर्ष की यात्रा पर बुरा असर देखने को मिल सकता है. मंदिर प्रांगण में 50 श्रद्धालुओं के खड़े रहने तक के लिए उचित स्थान नहीं होने से यमुनोत्री धाम की यात्रा पर आए श्रद्धालुओं ने अपनी नाराज़गी जताई है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।