आप यहां हैं : होम» राज्य

काशी भारत की संस्कृति की राजधानी है : योगी आदित्यनाथ

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: May 9 2019 1:29PM
yogi- kashi_201959132958.jpg

वाराणसी. पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि काशी में आते हैं, तो हर-हर महादेव सुनकर अच्छा लगता है. सही मायने में लगता है कि यह भारत की संस्कृति की राजधानी है. उन्होंने कहा कि पूरे देश में एक ही नारा फिर एक बार मोदी सरकार, भारत को दुनिया की महाशक्ति बनने के लिए पीएम मोदी के नेतृत्व में देश को आना चाहिए. देश विपरीत परिस्थितियों का सामना करते हुए पीएम मोदी का समर्थन कर रहा है.

सीएम योगी ने कहा कि मुझे बंगाल जाना पड़ा. पहले वहॉ की सरकार ने मेरा हेलीकॉप्टर उतरने नहीं दिया. मैं झारखंड में हेलीकॉप्टर उतारकर 35 किलोमीटर गया और सड़क के चारों ओर फिर एक बार मोदी सरकार का नारा लगाया. ऐसा ही नज़ारा वर्दमान में देखा कि लोग 10 किलोमीटर चलकर आये हैं. वह मोदीजी के प्रति अपना समर्थन दे रहे हैं.

सीएम योगी ने कहा कि काशी की तरह दुनिया में देश का सम्मान बढ़ा है. योग, कुम्भ का व्यापक प्रचार या देश की सुरक्षा के लिए आतंकी पाताल या पाकिस्तान भी छुपा हो उसे घुसकर मारा गया है. पीएम मोदी काशी में भाषण करते हैं तो इमरान खान को इस्लामाबाद में पसीना छूट जाता है. देश के अंदर आतंकवाद, नक्सलवाद खत्म करना हो या विकास हो काशी की सड़कें विकसित हुई हैं. सड़क के साथ वाटर ट्रांसपोर्ट भी बढ़ा है. मेडिकल का बड़ा हब भी काशी बन गया है. पीएम ने देश को सुरक्षित करने के लिए अमेरिका और चीन की भी परवाह नहीं की. पीएम मोदी के कारण दुनिया में भारत का  सम्मान बढ़ रहा है. काशी के लोगों को प्रधानमंत्री चुनना है. बाबा भोले नाथ को माँ गंगा से मिलन विश्वनाथ धाम में किया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि नई काशी नए कलेवर में दिखेगी. इससे पहले कोई पीएम इतनी बार अपने संसदीय क्षेत्र में नहीं गया, लेकिन मोदी जी काशी को बढ़ाने के लिए निरंतर आगे बढ़ रहे हैं. देश के अंदर काशी की पहचान या सरदार पटेल की दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा लगाने का श्रेय मोदीजी को जाता है. बाबा भीम राव अम्बेडकर को सही मायने में मोदीजी ने सम्मान दिया. अम्बेडकर जी के पांच स्थलों को पंचतीर्थ के रूप में विकसित किया.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।