आप यहां हैं : होम» राज्य

केदार घाटी में शुरू हुई हैलीकाप्टर सेवा

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: May 17 2019 7:23PM
kedarnath-helicopter_201951719237.jpg

रुद्रप्रयाग. एक बार फिर केदारघाटी से केदारधाम के लिए हवाई सेवाएं शुरू हो गयी हैं. हैलीकॉप्टर सेवाओं के शुरू होने से सभी यात्रियों के चहरे खिल गए हैं. देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं को हवाई सेवाओं का इंतजार रहता है. क्योंकि यात्रा में ऐसे भी कई तीर्थयात्री होते हैं जिन्हें पैदल चलने में काफी दिक्कतें हाती हैं. तो वहीं गौरीकुंड से केदारधाम पैदल मार्ग के बीच बड़े-बड़े ग्लेशियर होने से यात्रियों की जान पर हमेशा खतरा बना रहता है. इस हैलीकॉप्टर सर्विस के शुरू होने से तीर्थयात्रियों के चेहरों पर भी मुस्कान लौट आई है.

आज से धाम के लिए पांच हवाई कंपनियों ने उड़ान भरना शुरू कर दिया है. पांच हेली कंपनियों को हवाई सेवाओं के लिए अनुमति मिली है. लम्बे इन्तजार के बाद आखिरकार बाबा केदार के लिए हेली सेवाएं शुरू हो गयी हैं. डीजीसीए की अनुमति के बाद श्रद्धालु हेली सेवा के जरिये केदारनाथ पहुँचने लगे हैं. डीजीसीए की जांच पड़ताल के बाद फिलहाल आज पांच हेली कंपनियों ने अपनी सेवाएं देना शुरू कर दिया है. इसके अलावा अन्य चार हेली कंपनियों की जांच पड़ताल की जा रही है, जिसके बाद शुक्रवार से संभवतः यह अन्य सेवाएं भी शुरू हो जायेंगी. इस बार केदारधाम के लिए नौ हेली कंपनियां सेवाएं दे रही हैं. जिनमें से पांच हिमालय हेली, ऐरो क्राफ्ट, पवन हंस, आर्यन, थम कंपनी ने सेवाएं शुरू कर दी हैं, जबकि अन्य ग्लोबल वेस्ट्रा, यूटेयर, इंको क्राफ्ट कंपनी की डीजीसीए की जांच पड़ताल के बाद एक-दो दिन में सेवाएं शुरू हो जायेंगी.

ये कंपनियां धाम के लिए फाटा, शेरसी, गुप्तकाशी स्थित हेलीपैडों से सेवाएं दे रहे हैं. केदारधाम के लिए हवाई सेवाओं के शुरू होने से तीर्थयात्रियों के चेहरों पर खुशी देखने को मिल रही है. हवाई सेवाओं के शुरू होने से अब केदार यात्रा में भी भारी इजाफा होगा. हर दिन फाटा व शेरसी से केदारनाथ धाम के लिए 25 से 30 चक्कर लगाये जायेंगे, जबकि गुप्तकाशी हेलीपैड से 20 से 25 चक्कर लगेंगे. अब तक केदारधाम में सात दिनों के भीतर पचास हजार से अधिक तीर्थयात्री पहुंच चुके हैं और हेली सेवाओं के संचालन के बाद हर दिन यात्रियों की संख्या करीब 10 से 20 हजार के बीच रहेगी. इस बार फाटा हेलीपैड से 4798, गुप्तकाशी से 8550, शेरसी से 4940 किराया निर्धारित किया गया है, जबकि पिछले वर्ष फाटा से 6700, शेरसी 6350 और गुपकाशी से 7300 किराया रखा गया था. इस बार सरकार की ओर से शेरसी और फाटा हेलीपैड से किराया कम किया गया है, जबकि गुप्तकाशी हेलीपैड से किराया काफी बढ़ा दिया गया है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।