आप यहां हैं : होम» राज्य

फर्जी शिक्षक को बीएसए ने भिजवाया जेल

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Mar 13 2019 5:56PM
shravasti_2019313175622.gif

श्रावस्ती. बेसिक शिक्षा अधिकारी ने जिले में एक शिक्षक को फर्जी प्रमाण पत्र के साथ पकड़ा है. शिक्षक फर्जी अभिलेख लगाकर नौकरी कर रहा था. बीएसए ने पुलिस को जानकारी देकर फर्जी शिक्षक को गिरफ्तार करवा दिया है.

बता दें कि प्राथमिक विद्यालय भिखारीपुर मसढ़ी में तैनात प्रधान शिक्षक अजीत कुमार शुक्ला का टीईटी प्रमाण पत्र फर्जी था. इसकी शिकायत कुछ दिन पहले बीएसए से की गई थी. बीएसए ने इसकी जांच विभाग द्वारा कराई, और मामले में शिकायत को सही पाया गया. जांच में शिक्षक का टीईटी प्रमाण पत्र फर्जी पाया गया. मामले का जैसे ही खुलासा हुआ बीएसए ने शिक्षक को पुलिस के हवाले करवा दिया. फिलहाल पुलिस ने फर्जी शिक्षक को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

पुलिस ने आरोपित शिक्षक के खिलाफ केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है. मामला श्रावस्ती जिले के थाना गिलौला क्षेत्र का है. जहां पर प्राथमिक विद्यालय भिखारीपुर मसढ़ी में तैनात प्रधान शिक्षक अजीत कुमार शुक्ला पर बीएसए श्रावस्ती जाँच के बाद कार्रवाई करते हुए उन्हें फ़र्ज़ी अभिलेख के सहारे नौकरी करने के जुर्म में पकड़कर पुलिस को सौंप दिया. बीएसए की तहरीर पर पुलिस ने शिक्षक को जेल भेज दिया.

दरअसल प्राथमिक विद्यालय भिखारीपुर मसढ़ी में तैनात प्रधान शिक्षक अजीत कुमार शुक्ला का टीईटी प्रमाण पत्र फर्जी होने की शिकायत कुछ माह पूर्व बीएसए से की गई थी. इस पर इसकी जांच विभाग द्वारा कराई गई. जांच में शिक्षक का टीईटी प्रमाण पत्र फर्जी पाया गया. क्योंकि जिस वर्ष का उन्होंने टीईटी प्रमाण पत्र लगाया था, उस वर्ष उनका चयन ही नहीं हुआ था. शिक्षक ने तैनाती के दौरान फर्जी टीईटी प्रमाण पत्र लगाया था. इसका खुलासा होने के बाद बीएसए ओमकार राणा ने शिक्षक को पकड़ कर गिलौला पुलिस के हवाले कर दिया.

इस कार्रवाई से शिक्षा विभाग में खलबली मची हुई है. हालांकि जिले में तैनात आधा दर्जन शिक्षक अभी भी फर्जी बताये जा रहे हैं. हाल ही में एक दर्जन फर्जी शिक्षकों पर शिक्षा विभाग कार्रवाई कर चुका है. अब बड़ा सवाल उठ रहा कि फर्जी भर्ती में किसका हाथ है. इस रैकेट का सरगना कौन है. इसका खुलासा कब होगा यह सवाल बना हुआ है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।