आप यहां हैं : होम» राज्य

मुझे मेरे पति से तलाक दिलवाए सरकार

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jun 24 2019 6:16PM
Talaq_2019624181615.jpg

सहारनपुर. देवबंद क्षेत्र में एक महिला ने अपने पति से तीन तलाक मांगते हुए कहा है कि बहुत परेशान हो गई हूँ. इस महिला की 10 साल पहले शादी हुई थी. दहेज़ को लेकर ससुराल वालों से हुए विवाद के बाद से वह पिछले 4 साल से अपने घर पर बैठी है. इस महिला का दर्द यह है कि घर में कमाने वाला कोई नहीं है. मां भी बीमार है. उसकी दवाई और इलाज के लिए भी बहुत मुश्किल होती है. ऐसे में ऐसे रिश्ते में बंधे रहने के क्या मायने हैं जिससे कोई लेना-देना ही नहीं है.

एक तरफ केन्द्र सरकार कानून बनाकर तीन तलाक को समाप्त करने के प्रयास में लगी है तो वहीं सहारनपुर की इस महिला ने अपने पति से परेशान होकर उससे तीन तलाक दिलाए जाने की गुहार लगाई है. पीड़िता ने मीडिया के माध्यम से सरकार से गुहार लगाते हुए कहा कि उसे उसके पति से आजाद कराया जाए.

रविवार को मोहल्ला सराय पीरजादगान निवासी एक विवाहता ने मीडिया के माध्यम से गुहार लगाते हुए कहा कि चार वर्ष उसका विवाह नगर के मोहल्ला पठानपुरा निवासी युवक के साथ हुआ था. लेकिन शादी के बाद से ही ससुराली दहेज को लेकर उसके साथ बुरा व्यवहार करते रहे हैं, वह अतिरिक्त दहेज की मांग कर उसका उत्पीड़न करते रहे हैं. पीड़िता के मुताबिक उसके पिता ने समय-समय पर ससुरालियों की बहुत सी मांगों को किसी तरह से पूरा करने का प्रयास भी किया, लेकिन एक के बाद एक कर मांग करने के कारण ससुराली कभी उससे खुश नहीं रहे. पीड़ित विवाहिता का आरोप है कि उसके पति ने बिना तलाक दिए उसे घर से निकाल दिया और एक अन्य महिला को अपनी पत्नी बनाकर उसके साथ रह रहा है. जबकि उसकी गोद में दो साल की बच्ची है और अब उसके पिता का भी निधन हो चुका है. वह अपनी बच्ची के साथ बूढी मां के पास रह रही है. उसका कहना है कि उसका पति उसे बिना तलाक दिए दूसरी औरत के साथ रह रहा है. पीड़ित महिला रेशमा का कहना है कि अगर उसे उसके पति से तलाक दिलवा दिया जाए तो वह अपना जीवन तो सुकून से जी सकती है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।