आप यहां हैं : होम» राज्य

यूपी और महाराष्ट्र के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान की शुरुआत

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jan 11 2019 1:59PM
yogi-ram naik_2019111135928.jpeg

वाराणसी. यूपी सरकार और महाराष्ट्र सरकार के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान के तहत खास कार्यक्रम मराठी ‘गीत रामायण’ आयोजित किया गया. इस कार्यक्रम का शुभारंभ राज्यपाल रामनाइक ने किया. इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद रहे.

कबीर मार्ग स्थित सरोजा पैलेस में आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए राज्यपाल ने कहा कि महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश का सम्बन्ध रामयुग से है. काशी के घाट दोनों राज्यों के रिश्तों के गवाह हैं. समझौते से दोनों राज्यों की सांस्कृतिक विरासत को अक्षुण्ण रखने में मजबूती मिलेगी. इस क्रम में आयोजित गीत रामायण की प्रस्तुति के लिए यह दिन ऐतिहासिक है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रामगाथा को जिसने जिस किसी भाव में गाया उसका उद्धार हो गया. इसके म‍हर्षि वाल्मीकि सबसे बड़े उदाहरण हैं. उन्होंने संस्कृत रचना रामायण को लोकभाषा में लिखकर जन-जन तक पहुंचाने का काम किया. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र ने समय-समय पर चुनौतियों से जूझते हुए भी देश को दिशा दी है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।