आप यहां हैं : होम» राज्य

यूपी में स्वाइन फ्लू की दस्तक, 17 नए केस

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jan 12 2019 5:00PM
Swine-flu-1_201911217039.jpg

लखनऊ. मौसम बदलने के साथ ही एक बार फिर से स्वाइन फ्लू ने दस्तक देनी शुरु कर दी है. प्रदेश में दस दिनों में स्वाइन फ्लू के 17 नए मरीज सामने आ चुके हैं. जिसके बाद स्वास्थ विभाग ने हरकत में आते हुए सभी अस्पतालों में 10-10 बेड रिजर्व करने और हर संदिग्ध मरीज की जांच करने का निर्देश दिया है.

स्वाइन फ्लू से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने उत्तर प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया है. सभी सरकारी अस्पतालों में स्वाइन फ्लू के मरीज़ों के लिए 10-10 बेड रिज़र्व किये गए हैं. स्वास्थ्य विभाग ने निर्देश जारी किया है कि किसी भी संदिग्ध मरीज़ को जाँच पूरी होने के बाद ही अस्पताल से डिस्चार्ज किया जाये. लखनऊ में सैंपल कलेक्शन के लिए सिविल, बलरामपुर और लोहिया अस्पताल को नोडल सेण्टर बनाया गया है.

स्वास्थ्य विभाग ने केजीएमू और पीजीआई को स्वाइन फ्लू की किट उपलब्ध करने को कहा है. सभी सीएमओ को निर्देश गए हैं कि स्वाइन फ्लू का कोई भी संदिग्ध मरीज़ मिलने पर महानिदेशालय को रिपोर्ट भेजी जाये. इस जानलेवा बीमारी से बचने के लिए अस्पतालों में डॉक्टरों की टीम गठित करने का भी आदेश दिया गया है. स्वास्थ्य विभाग के संचारी रोग की निदेशक डॉ. मिथिलेश चतुर्वेदी ने बताया कि अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाये गए हैं. कोई भी संदिग्ध मरीज़ आता है तो उसे बेहतर इलाज दिया जायेगा. अभी तक यूपी में 17 स्वाइन फ्लू के मरीज मिले हैं.

स्वाइन फ्लू के लक्षण की बात की जाये तो इसमें जुखाम के साथ नाक से पानी आने लगता है. गले में खराश हो जाती है. आँखें लाल हो जाती हैं, बुखार आता है और सांस लेने में तकलीफ होने लगती है. साथ ही कमजोरी और थकान महसूस होती है. स्वस्थ्य विभाग ने सलाह दी है कि हमेशा रुमाल साथ लेकर चलें. छींक आए या खांसी, अपने रुमाल को अपने मुंह पर जरूर रखें. कोई छींक रहा हो तो कम से कम चार मीटर की दूरी बनाएं. स्वयं सर्दी खांसी या बुखार जैसा लगे तो घर से बाहर जाना बंद करें.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।