आप यहां हैं : होम» राजनीति

पहले चरण में यूपी के 96 प्रत्याशियों की किस्मत दांव पर

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Apr 10 2019 3:54PM
Loksabha 2019_2019410155448.jpg

आलोक पाण्डेय

लखनऊ. लोकसभा चुनाव का महासंग्राम बृहस्पतिवार से शुरू हो जायेगा. पहले चरण में देश में 20 राज्यों में 91 लोकसभा सीटों पर मतदान होगा. इसी चरण में यूपी से 8 लोकसभा सीटों पर भी चुनाव है और जनता EVM का बटन दबा कर इनके भाग्य का फैसला EVM में बंद कर देगी.

यूपी का यही वह चरण है जहाँ 2014 में बीजेपी ने बढ़त बनाई थी. पर इस बार सपा -बसपा और RLD के गठबंधन के बाद अब 2019 में  बीजीपी को अपनी सीटों को बरकरार रखना सबसे बड़ी चुनौती होगी. इस चरण में कई बड़े नाम हैं जिनके भाग्य का फैसला EVM में बंद हो जायेगा.

यूपी के पहले चरण के मतदान में सीधे टक्कर बीजेपी और सपा -बसपा -RLD गठबंधन से है. कांग्रेस ने भी अपने प्रत्याशी उतार कर कई सीटों को त्रिकोणीय लड़ाई में तब्दील कर दिया है. पर यहाँ बीजेपी की साख दांव पर है. पहले चरण की ख़ास बातों पर चर्चा करें तो इस चरण में केन्द्र सरकार में मंत्री जनरल वी.के. सिंह गाजियाबाद से दुबारा उतारे गए हैं. महेश शर्मा गौतमबुद्धनगर से, सत्यपाल सिंह बागपत से और पूर्व मंत्री संजीव बालियान मुज़फ्फरनगर से इसी चरण में चौधरी चरण सिंह के पुत्र चौधरी अजीत सिंह और पोता जयंत चौधरी की भी किस्मत दांव पर होगी.

2014 में दोनों अपनी सीटों से हार गए थे. इस बार गठबंधन के बैनर पर अपनी पार्टी RLD से चुनावी मैदान में है. कभी मायावती के ख़ास रहे नसीमुद्दीन सिद्दीकी बिजनौर से कांग्रेस के प्रत्याशी हैं. इस चरण में माना जाता है की 8 में से 6 सीटें गन्ना बेल्ट की सीट हैं और 2 NCR बेल्ट गन्ना सीटों पर ऐसा जानकार मानते हैं कि जाट और मुस्लिम की बड़ी तादात है. यही वो चरण है जहाँ अभी तक पीएम मोदी 2 चुनावी सभा किये हैं. योगी ने 6 सीटों पर और यूपी में बना गठबंधन ने सयुक्त रूप से देवबंद में सपा प्रमुख अखिलेश यादव, बसपा पर्मुख मायावती और RLD प्रमुख अजित सिंह ने बड़ी रैली कर अपनी ताकत दिखाई तो कांग्रेस की तरफ से प्रियंका और राहुल गाँधी रोड शो कर चुके हैं.

यहाँ माना जा रहा है कि बीजेपी के खिलाफ यूपी का गठबंधन कैराना माडल पर चुनाव लड़ेगा. क्योंकि इसी तर्ज़ पर उन्होंने उपचुनाव में बीजेपी को शिकस्त दी थी.

सहारनपुर लोकसभा सीट से बीजेपी से राघव लखन पाल, बीएसपी से हाजी फैजुल रहमान और कांग्रेस से इमरान मसूद अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

मेरठ लोकसभा सीट से बीजेपी से राजेंद्र अग्रवाल, बीएसपी से हाजी मोहमद याकूब और कांग्रेस से हरेन्द्र अग्रवाल मैदान में हैं.

गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट से बीजेपी से महेश शर्मा, बीएसपी से सतवीर और कांग्रेस से डॉ. अरविन्द कुमार सिंह चुनाव लड़ रहे हैं.

मुजफरनगर लोकसभा सीट से बीजेपी से संजीव कुमार बालियान, RLD से चौधरी अजित सिंह के बीच टक्कर है.

बिजनौर लोकसभा सीट से बीजेपी से राजा भारतेन्द्र सिंह, बीएसपी मलूक नागर और कांग्रेस नसीमुद्दीन सिद्दीकी मैदान में हैं.

बागपत लोकसभा सीट से बीजेपी डॉ. सत्यपाल सिंह, RLD से जयंत चौधरी के बीच मुख्य मुकाबला है.

गाजियाबाद लोकसभा सीट से बीजेपी से जनरल वी. के. सिंह, समाजवादी पार्टी से सुरेश बंसल और कांग्रेस से डोली शर्मा ने अपनी दावेदारी पेश की है.

कैराना लोकसभा सीट से बीजेपी से प्रदीप कुमार, सपा से तबुस्स्म बेगम और कांग्रेस से हरेन्द्र सिंह मालिक चुनाव लड़ रहे हैं.

यूपी की इन 8 लोकसभा सीटों पर कुल 96 प्रत्याशी मैदान में हैं. 11 अप्रैल को सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान होगा.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।