आप यहां हैं : होम» राज्य

उत्तराखंड किडनी काण्ड में पुलिस को मिली एक और कामयाबी

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Dec 16 2018 5:18PM
kidney_20181216171839.jpg

डोईवाला (देहरादून). उत्तराखंड में बहुचर्चित किडनी कांड को अंजाम देने वाले गिरोह की धरपकड़ में जुटी पुलिस के हाथ एक और कामयाबी लगी है. पुलिस ने डोईवाला के गंगोत्री अस्पताल में तैनात दो गार्डों को गिरफ्तार किया है. दो अभियुक्तों की गिऱफ्तारी मुजफ्फरनगर से हुई है. वहीं पुलिस अब दोनों आरोपितों का आपराधिक इतिहास खंगालने में जुट गई है.

बीते 11 सितम्बर 2017 में पुलिस ने डोईवाला स्थित गंगोत्री हास्पिटल में महीनों से चल रहे किडनी ट्रांसप्लांट के अवैध धंधे का खुलासा किया था. 16 सितम्बर को गिरफ्तार हुए अमित राऊत ने पूछताछ में बताया था कि बीते तीन महीनों में यहां पचास के करीब ऑपरेशन कर चुका है. जिसकी दस्तावेज के जरिये पुष्टि हुई थी.

बहुचर्चित किडनी कांड प्रकरण में 2 अभियुक्त डोईवाला पुलिस ने गिरफ्तार किये हैं. 11 सितम्बर 2017 को थाना डोईवाला पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 256 /17 धारा -420/120B/342/370 आईपीएस व 18/19/20 मानव अंगों का प्रत्यारोपण, अधिनियम 1994 किया गया था थाना डोईवाला क्षेत्र अंतर्गत चौकी क्षेत्र लालतप्पड मे स्थित उत्तरांचल डेंटल कॉलेज व अस्पताल कैम्पस मे प्रचलित गंगोत्री चैरिटेबल अस्पताल मे मानव अंगों की तस्करी तथा खरीद-फरोख्त होना प्रकाश में आया. जिसमें डाक्टर अमित राउत व जीवन राउत तथा व्यक्तियों का उपरोक्त अपराध में संलिप्त होना पाया गया था.  उपरोक्त प्रकरण में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के निर्देशन में अलग-अलग टीमें गठित कर प्रभारी निरीक्षक डोइवाला के नेतृत्व में उपरोक्त प्रकरण से संबंधित 14(चौदह) अभियुक्तगणों को पूर्व में ही गिरफ्तार करके जेल भेजा जा चुका है, और किडनी काण्ड के अन्य फरार चल रहे आरोपितों की धरपकड़ के लिये लाल तप्पड की पुलिस लगातार प्रयास कर रही थी.

अस्पताल में गार्ड की नौकरी पर तैनात अभियुक्त सत्येंद्र कुमार पुत्र सोमपाल सिंह निवासी ग्राम सहातु थाना भोरा कला जिला मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश को हरियाणा के पानीपत से गिरफ्तार किया गया तथा अभियुक्त अंकित कुमार पुत्र सोमपाल सिंह निवासी ग्राम सहातु थाना भोरा कला जिला मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश को बुढ़ाना मुजफ्फरनगर से गिरफ्तार किया गया. यह दोनों अभियुक्त गण गंगोत्री अस्पताल मे गार्ड कि नौकरी करते थे. दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर अब उनके अपराधिक इतिहास को खंगालने में पुलिस जुट गई है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।