आप यहां हैं : होम» राज्य

भीम आर्मी ने घेरा एसएसपी कार्यालय

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Sep 14 2018 10:09PM
bheem army_201891422942.jpg

मुज़फ्फरनगर. एसएसपी कार्यालय में भीम आर्मी के सैकड़ों की संख्या में पहुंचे कार्यकर्ताओं ने हंगामा करते हुए पिछले 15 दिनों में अनुसूचित जनजाति के दो युवकों और एक युवती की हत्या के खुलासे की जल्द गिरफ्तारी की मांग की. इसके साथ ही उन्होंने मौजूद पुलिस अधिकारियों को चेतावनी दी कि अगर इन मामलों का जल्द खुलासा नहीं किया गया तो रोड जाम करके चक्का जाम कर देंगे.

30 अगस्त को चरथावल थाना क्षेत्र में अनुसूचित जनजाति की एक नाबालिग युवती की हत्या के साथ ही 8 सितम्बर को बुढ़ाना कोतवाली क्षेत्र में अनुसूचित जनजाति के एक युवक की हत्या और 10 सितम्बर को पुरकाजी थाना क्षेत्र में छात्र की हत्या कर दी गई थी, लेकिन पुलिस इन मामलों का अब तक खुलासा नहीं कर पाई है. गुस्साए अनुसूचित जनजाति के सैकड़ों लोगों ने भीम आर्मी के साथ मिलकर पुलिस प्रशासन से जल्द खुलासे की मांग करते एसएसपी कार्यालाय में हंगामा किया.

मुज़फ्फरनगर में शुक्रवार को सैकड़ों अनुसूचित जनजाति की महिलाओं और पुरुषों के साथ भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने एसएसपी कार्यालय पर पहुंचकर जमकर हंगामा करते हुए अधिकारियों का घेराव कर पिछले 15 दिनों में अनुसूचित जनजाति के दो युवकों और एक युवती की हत्या के खुलासे की मांग की और घटनाओं का जल्द खुलासा न होने पर जनपद की व्यवस्था को ठप करने की पुलिस प्रशासन को चेतावनी दी है.

आपको बता दें कि जनपद में 30 अगस्त को चरथावल थाना क्षेत्र में अनुसूचित जनजाति की एक नाबालिग युवती की हत्या के साथ ही 8  सितम्बर को बुढ़ाना कोतवाली क्षेत्र में अनुसूचित जनजाति के एक युवक कपिल की हत्या और 10 सितम्बर को पुरकाजी थाना क्षेत्र में बीए प्रथम वर्ष के अनुसूचित जनजाति के छात्र रजत की हत्या कर सनसनी फैला दी गई थी.

15 दिनों में अनुसूचित जनजाति में तीन हत्याओं के बाद गुस्साए अनुसूचित जनजाति के सैकड़ों लोगों ने भीम आर्मी के साथ मिलकर जिला प्रशासन को जल्द खुलासे की मांग करते हुए चेतावनी तक दे डाली है. इन तीनों हत्याओं के मामलों में अब तक पुलिस ने चरथावल थाना क्षेत्र में हुई नाबालिग युवती की हत्या के मामले में एक युवक को गिरफ्तार कर जेल भेजा है. जबकि इस मामले में अभी भी दो अपराधी फरार चल रहे हैं.

इन हत्याओं के मामले में एसपी सिटी ओमवीर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि ऐसा नहीं है कि किसी को टारगेट किया जा रहा है. यह घटनाएँ पारिवारिक रंजिश के कारण, अवैध सम्बन्धों के कारण हो रही हैं. हर घटना अलग है. यह कहना गलत है कि किसी जाति विशेष, वर्ग विशेष या साम्प्रदायिक विशेष है. ऐसा कुछ नहीं है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।