आप यहां हैं : होम» अपराध

मामूली कहासुनी के बाद खूनी संघर्ष, एक युवक की मौत, कई घायल

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jan 11 2019 10:53AM
lucknow_2019111105329.JPG

लखनऊ. राजधानी के सरोजनी नगर के नूर नगर भदरसा गांव में खेत में पानी लगाने को लेकर दो पक्षों में मारपीट शुरू हो गई. मामूली कहासुनी से शुरू हुई बात खूनी संघर्ष में तब्दील हो गई, और दोनों पक्षों की तरफ से चाकूबाजी के साथ जमकर लाठी-डंडे बरसे. इस दौरान चाकूबाजी में 25 साल के विपिन की मौत हो गई. वहीं तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने 7 लोगों को हिरासत में लिया है. जिनसे पूछताछ की जा रही है. विवाद पर एसपी पूर्वी सर्वेश मिश्रा का कहना है कि इन दोनों पक्षों के बीच पहले से विवाद चल रहा था. पीड़ित पक्ष की तरफ से तहरीर लेकर मामला दर्ज किया गया है. कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. जल्द ही आरोपितों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी.

राजधानी लखनऊ के सरोजिनी नगर के बंथरा थाना क्षेत्र स्थित नूर नगर भदरसा गांव में उस वक्त सनसनी फैल गई जब खेत में पानी लगाने को लेकर दो पक्षों में मारपीट शुरु हो गई. जिसके बाद देखते ही देखते मामले ने तूल पकड़ लिया और चाकू, ईंटों और लाठी डंडे से खूनी संघर्ष शुरू हो गया. जिसमें बताया जा रहा है कि दो पक्षों में हुई चाकूबाजी में 25 साल के विपिन की मौत हो गई और तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए.

जिसके बाद दोनों पक्षों में विवाद बढ़ गया लेकिन खूनी संघर्ष की सूचना पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने 7 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी. साथ ही बताया जा रहा है कि इस घटना को पुरानी रंजिश के कारण अंजाम दिया गया है.

यह खूनी संघर्ष किसी दो पक्षों में नहीं बल्कि एक ही परिवार के स्वर्गीय बिंदादीन की दोनों पत्नियों के लड़कों में हुआ है. जिसमें बताया जा रहा है कि जमीनी विवाद को लेकर शाम करीब 4:30 बजे विपिन अपने खेत गया हुआ था. तभी दोनों भाइयों रामचंद्र और राम लखन में कहा सुनी हो गई और देखते ही देखते दोनों एक दूसरे के खून के प्यासे हो गए. जिसके बाद खूनी संघर्ष शुरू हो गया. जिसमें विपिन की जान चली गई.

एसपी पूर्वी सर्वेश मिश्रा का कहना है कि नूर नगर भदरसा गांव में रामलखन यादव, सावित्री देवी और रामचंद्र यादव दोनों एक ही परिवार के हैं. साथ ही कहा कि कुछ दिन पूर्व दोनों लोगों में विवाद हुआ जिसको लेकर दोनों तरफ से मुकदमा भी लिखा गया था. सावित्री देवी के खेत को जाने वाले रास्ते पर विपक्षी पक्ष ने गड्ढा खोद दिया था. जिसको लेकर विवाद हुआ व जिसमें मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया. वहीं तीन लोगों का इलाज चल रहा है और विपिन की मौत हो गई. साथ ही कहा कि पीड़ित पक्ष की तरफ से तहरीर लेकर मामला दर्ज किया जा रहा है और आरोपित की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश भी दी जा रही है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।