आप यहां हैं : होम» राज्य

काशी विश्वनाथ कारीडोर में पैदल टहलते नज़र आये सीएम योगी

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jan 11 2019 11:37AM
yogi-varanasi_2019111113710.jpg

वाराणसी. प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ कॉरीडोर का काम तेजी से चल रहा है. इस कार्य के निरीक्षण के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ लगातार आते रहे हैं. इसी कड़ी में सीएम योगी फिर वाराणसी के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे. जहां सीएम योगी काशी विश्वनाथ मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे. तो वहां का बदला हुआ स्वरूप देखने को मिला. जिसके बाद सीएम मेन रोड से पैदल उतरकर निरीक्षण करते हुए अंदर गए, और काशी विश्वनाथ के दर्शन किए. इसके बाद कॉरीडोर के कार्य पर अधिकारियों से बातचीत कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए.

निर्माणाधीन कॉरीडोर का काम पूरा होने के बाद यहां से गाड़ियां अंदर जा सकेंगी. इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि काशी की पहचान भगवान विश्वनाथ का पावन मंदिर है. मंदिर के सुंदरीकरण की इस योजना को लेकर और यहां के अति प्राचीन मंदिरों के संरक्षण के कार्यक्रमों का निरीक्षण करने के लिए मैं यहां आया हूं. विश्वनाथ मंदिर के सुंदरीकरण के लिए सभी का एक सकारात्मक सहयोग मिला है. इसके लिए मैं सभी के प्रति हृदय से आभार व्यक्त करता हूं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे तो दृश्याम गीत रामायण के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद सीएम योगी जब काशी विश्वनाथ मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे तो आज यहां का बदला हुआ स्वरूप देखने को मिला क्योंकि विश्वनाथ मंदिर के मुख्य गेट ज्ञानवापी छत्ता द्वार से जहां पहले शिर्डी से उतरकर गलियों से होते हुए मंदिर तक पहुंचा जाता था लेकिन आज यहां सीएम की गाड़ी मंदिर तक जा सकी.

काशी विश्वनाथ कॉरीडोर का काम काफी दिनों से चल रहा है और इस पर लगातार प्रधानमंत्री खुद निगाह बनाए हुए हैं. ऐसे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार यहां का स्थलीय निरीक्षण कर अधिकारियों से कार्य की प्रगति पर रिपोर्ट ले रहे हैं, और आवश्यक दिशा निर्देश देते रहते हैं.

सीएम मेन रोड से पैदल उतर कर निरीक्षण करते हुए अंदर गए और दर्शन पूजन किया इसके बाद कॉरीडोर के कार्य पर अधिकारियों से बातचीत कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. उसके बाद सीएम वापस पैदल मुख्य सड़क पर आए लेकिन उनकी कार जो मंदिर के पास तक गई थी वह भी उसी रास्ते मुख्यमंत्री के पीछे पीछे आई. जिससे यह साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि अब काशी विश्वनाथ कॉरीडोर का कार्य का जो स्वरूप है वह सामने आने लगा है, और जल्द ही काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का काम जब कंपलीट होगा तो यहां से गाड़ियां अंदर जा सकेंगी.

मंदिर में दर्शन कर और काशी विश्वनाथ कॉरीडोर का स्थलीय निरीक्षण कर सीएम योगी ने मीडिया द्वारा राम मंदिर मुद्दे पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा अगली तिथि 29 जनवरी को तय किए जाने के सवाल पर और मंदिर बनाए जाने के सवाल पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुस्कुराते हुए कहा कि काशी की पहचान भगवान विश्वनाथ का पावन मंदिर है. मंदिर के सुंदरीकरण की इस योजना को लेकर और यहां के अति प्राचीन मंदिरों के संरक्षण के कार्यक्रम जो चल रहे हैं इसी कार्य का निरीक्षण करने के लिए आज मैं यहां आया हूं.

काशी की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक परंपरा को संरक्षित रखते हुए सुंदरीकरण का जो कार्य चल रहा है काशी की पहचान को एक नई ऊंचाइयों तक ले जाने में एक बात अच्छा अभियान है. हमारा विश्वास है कि शिवरात्रि से पहले काशी विश्वनाथ कॉरीडोर के कार्य में बहुत अच्छी स्थिति देखने को मिलेगी. काशी विश्वनाथ मंदिर के सुंदरीकरण के लिए सभी का एक सकारात्मक सहयोग मिला है इसके लिए मैं सभी के प्रति हृदय से आभार व्यक्त करता हूं.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।