आप यहां हैं : होम» राज्य

केन्द्र और उत्तराखंड सरकार की नीतियों के खिलाफ कांग्रेस सड़क पर

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Feb 1 2019 3:51PM
Kashipur_201921155137.JPG

काशीपुर. केन्द्र और प्रदेश सरकार की तानाशाही नीतियों के खिलाफ कांग्रेस उत्तराखंड में परिवर्तन यात्रा निकाल रही है. कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह समेत कई दिग्गज शामिल हो रहे हैं. कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा का विभिन्न स्थानों पर स्वागत भी किया जा रहा है, तो वहीं काशीपुर में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा को मुस्लिम समुदाय के लोगों का खासा आक्रोश देखने को मिला. जहां मुस्लिम समुदाय के लोगों ने काले झंडे दिखाकर परिवर्तन यात्रा का विरोध किया.

केन्द्र और प्रदेश सरकार की हिटलर शाही नीतियों के खिलाफ उत्तराखंड में कांग्रेस पार्टी ने परिवर्तन यात्रा 21 जनवरी को गढ़वाल से शुरू की थी, जो अब उत्तराखंड के तराई भवन में भी पहुंच चुकी है. गुरुवार को कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा काशीपुर पहुंची. परिवर्तन यात्रा में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश, पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलक राज बेहड़, पूर्व सांसद केसी सिंह बाबा, महेंद्र पाल समेत कई दिग्गज मौजूद रहे. कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए अल्लीखां मोहल्ले में पहुंची.

यहाँ आयोजित जनसभा में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रदेश और केन्द्र सरकार जनविरोधी निर्णय लेने का कार्य कर रही है. उन्होंने कहा कि देश के युवा नौकरी की तलाश में दर-दर भटक रहे हैं. जिन्हें लाठियों का सामना भी करना पड़ रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि देश का अन्नदाता कहे जाने वाला किसान भी आज मौत को गले लगाने को मजबूर है.

उन्होंने केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह चरमरा चुकी है. जिससे देश की जनता परिवर्तन की मांग कर रही है. नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने बताया कि कांग्रेस पार्टी जनता की आवाज बनकर सड़कों पर उतर रही है जिससे झूठी सरकार का पता हटाया जा सके. उन्होंने कहा कि देश की जनता प्रदेश और केन्द्र सरकार की तानाशाही नीतियों से पूर्ण रूप से त्रस्त हो चुकी है और बदलाव की दिशा में बढ़ रही है.

जहां एक तरफ कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी अपनी परिवर्तन यात्रा निकाल रहे हैं तो वहीं पार्टी के पदाधिकारियों का मुस्लिम समुदाय के युवाओं ने कार्यक्रम स्थल पर पहुंचकर काले झंडे दिखाकर विरोध प्रदर्शन किया. आक्रोशित स्थानीय नेता आरिफ खान ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत 2019 में कांग्रेस सरकार लाने के बाद राम मंदिर बनवाने की बात कर रहे हैं. जिसका मुस्लिम समुदाय विरोध करता है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी भी दूसरी पार्टियों की तरह धर्म के नाम पर राजनीति कर रही है. जिसका विरोध करना जनता का हक है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।