आप यहां हैं : होम» राज्य

डीएम और पुलिस कप्तान रोज़ करें जनता से मुलाक़ात

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jun 12 2019 7:19PM
CM- Meating_2019612191941.png

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में मे लगातार खराब हो रही कानून व्यवस्था को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज प्रदेश के सभी जिलों के डीएम और पुलिस कप्तानों के साथ करीब 4 घंटे तक बैठक की. प्रदेश में महिलाओें के खिलाफ बढ़ रहे अपराधों पर नाराजगी जताई और अफसरों को कानून व्यवस्था में सुधार के निर्देश दिए. उन्होंने पुलिस की विजिबिलिटी बढ़ाने के साथ ही फुट पेट्रोलिंग बढ़ाने की बात कही.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के अफसरों को निर्देश दिया कि जहां तैनाती है वहीं निवास करें. जिले में नियुक्त अधिकारी जिले में, तहसील में नियुक्त अधिकारी तहसील में और ब्लॉक पर नियुक्त अधिकारी ब्लॉक पर ही निवास करें. मुख्यमंत्री ने अफसरों से कहा कि अपराध और भ्रष्टाचार पर नियंत्रण करने के लिए कार्य करें. जनता से संवाद करें. जिलाधिकारियों को सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने के निर्देश दिए.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि योजनाओं का लाभ समाज के सबसे गरीब लोगों को मिले. उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति भूखा न सोए. अगर किसी कारण उसे योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है तो उसे इलाज के लिए दो हजार रुपये व मृत्यु पर उसके परिवार को पांच हजार रुपये पंचायत निधि से दिए जाएं. उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि वह हर रोज निरीक्षण करने के लिए विद्यालयों, अस्पतालों व अलग-अलग ब्लॉक में जाएं और लोगों की शिकायतें सुनें.

आज हुई इस बैठक को लेकर डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि सीएम ने बैठक में कानून व्यस्था को बेहतर करने के साथ ही डायल 100 को पुनः रुट तैयार करने को कहा है. ताकि आपराधिक घटनाओं पर ज्यादा रोक लगाई जा सके. इसके साथ प्रदेश में एंटी रोमियो स्क्वायड को और प्रभावी बनाए जाने के निर्देश देने के साथ पुलिस को आम जन के साथ संवाद करने और हर जिले के डीएम और एसपी को हर रोज एक घंटे तक जनता से संवाद करने का निर्देश दिया है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।