आप यहां हैं : होम» राज्य

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में फिर हुआ खूनी खेल, पूर्व छात्र की मौत

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Apr 15 2019 2:56PM
AllahabadUniversity_2019415145639.jpg

इलाहाबाद. इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रावास में इन दिनों अराजक तत्व बढ़ते ही जा रहे हैं. विश्वविद्यालय के पीसीबी हॉस्टल में एक छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई. रोहित नाम के छात्र की हत्या का आरोप यूनिवर्सिटी के ही छात्र पर लगा है. वारदात को अंजाम देने के बाद से आरोपित आदर्श त्रिपाठी और उसके साथी फरार हैं.

बताया जा रहा है कि आदर्श त्रिपाठी ने तीन दिन पहले ही यूनिवर्सिटी प्रशासन से रोहित के खिलाफ परेशान करने और धमकी देने की शिकायत दर्ज करवाई थी. देर रात रोहित शुक्ला पीसीबी हॉस्टल पहुंचा था. इस दौरान आदर्श त्रिपाठी और उसके साथियों से किसी बात को लेकर विवाद हो गया. हॉस्टल के अंदर टॉयलेट के पास रोहित पर ताबड़तोड़ कई गोलियां दागी गईं. इसके बाद हमलावर मौके से फरार हो गए. रोहित के साथियों ने पुलिस को सूचना देते हुए उसे स्वरूप रानी अस्पताल पहुंचाया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. हॉस्टल के पास  पुलिस फोर्स तैनात है. मौके पर पहुंचे रोहित के परिजनों ने इस हत्याकांड में छात्र नेता आदर्श त्रिपाठी, नवनीत यादव समेत छह के खिलाफ हत्या की तहरीर दी है.

पूरब का आक्सफोर्ड कही जाने वाली इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में एक बार फिर खेले गए खूनी खेल में एक पूर्व छात्र को मौत के घाट उतार दिया गया, और इस क़त्ल का इल्जाम इसी यूनीवर्सिटी के एक मौजूदा छात्र पर लगा है. वारदात को अंजाम देने के बाद से आरोपित और उसके साथी फरार हैं. पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर अपनी तफ्तीश शुरू कर दी है. आरोपित छात्र ने तीन दिन पहले ही यूनिवर्सिटी प्रशासन से मृतक पूर्व छात्र के खिलाफ परेशान करने व धमकी दिए जाने की शिकायत दर्ज कराई थी. आशंका है कि उसी विवाद में देर रात झड़प हुई और फायरिंग में पूर्व छात्र की मौत हो गई.

बताया जाता है कि देर रात रोहित शुक्ल पीसीबी हॉस्टल पहुंचा. रात करीब तीन बजे हुई फायरिंग में रोहित को गोली लगी और कुछ देर बाद ही उसकी मौत हो गई. फायरिंग का आरोप आदर्श त्रिपाठी व उसके दो अन्य साथियों पर लगा है. पूर्व छात्र रोहित शुक्ल इतनी रात को हॉस्टल क्यों गया और किस बात पर फायरिंग हुई, इसका पता अभी नहीं चल सका है. फिलहाल यह भी साफ़ नहीं है कि फायरिंग कर हत्या करने के आरोपित रोहित शुक्ल के साथ मौजूद दो अन्य युवक युनिवर्सिटी के छात्र हैं या नहीं. पुलिस अफसरों का कहना है कि इस मामले की पड़ताल की जा रही है और आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए दो टीमें कई जगहों पर छापेमारी कर रही हैं.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।