आप यहां हैं : होम» राजनीति

सहयोगी दलों के बागी तेवर नयी बात नहीं है

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: May 10 2019 5:33PM
o.p.rajbhar_2019510173345.jpg

प्रियम पाठक

लखनऊ. सरकार में रहते हुए सरकार के खिलाफ हो जाने का सिलसिला कोई नयी बात नहीं है. लम्बे समय से यह सिलसिला चलता आ रहा है. जब-जब सहयोगी दलों को लगा कि सरकार में उन्हें उचित सम्मान नहीं मिल रहा. तो इसके एवेज में उन्होंने बागी तेवर अपनाए.

मौजूदा सरकार के मंत्री ओमप्रकाश राजभर का हर रोज सरकार के खिलाफ बयानबाजी करना. इस्तीफे की धमकी देना बीजेपी सरकार के लिए गले की हड्डी बन गया है. पर राजभर अकेले ऐसे मंत्री नहीं हैं. जिन्होंने सरकार में रहते हुए सरकार के ही खिलाफ बागी तेवर अपना लिए. सरकार में रहकर सरकार के खिलाफ हो जाना बहुत पुराना सिलसिला रहा है. बीजेपी में ऐसा पहले भी हुआ है कि सरकार में रहते हुए उसके मंत्री सरकार के ही खिलाफ हो गए. फिर चाहे वो  2001 में बीजेपी के सहयोगी दल लोकतंत्रिक कांग्रेस के अध्यक्ष और उर्जा मंत्री नरेश अग्रवाल हों, सपा से बीजेपी में शामिल हुए मंत्री अशोक सिंह यादव हो या फिर श्याम सुंदर सिंह.

इन सभी ने सरकार में रहते हुए सरकार के खिलाफ बागी तेवर अपनाए. वहीं इसको लेकर सत्ताधारी पार्टी बीजेपी का कहना है कि अगर हमारे सहयोगी दल को कोई समस्या है तो उस पर नेतृत्व निर्णय लेता है, लेकिन जब मर्यादा से परे बात होने लगती है तो वो किसी के लिए भी सही नहीं रहता है.

वरिष्ठ पत्रकार रतनमणि लाल का कहना है कि सहयोगी दलों को जब बीजेपी में जोड़ा जाता है तो एक सीमा के बाद उन्हें उतना महत्व नहीं दिया जाता है. जितना अपने नेताओं को दिया जाता है. केवल यूपी में नहीं बल्कि अन्य राज्यों मे भी जहां पर बीजेपी की सरकारें सहयोगी दलों की मदद से बनीं वहां पर सहयोगी दलों की तरफ से इस तरह की तस्वीरें सामने आती रही हैं और केन्द्र में भी यही हाल रहा है. शिवसेना इसका बड़ा उदाहरण है.

इस पर राजनीतिक विशेषज्ञ योगेश मिश्रा का कहना है कि जब छोटे दलों के साथ पार्टियाँ एलायंस करती हैं, तो वो छोटे दल मेन पार्टियों को डराते, धमकाते रहते हैं. नरेश अग्रवाल, श्याम सुंदर शर्मा हों, ये सभी लोग समय-समय पर प्रेशर क्रिएट करते रहे हैं.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।