आप यहां हैं : होम» राज्य

नौचंदी मेले में जिला पंचायत अध्यक्ष ने गुर्गों के साथ की गुंडई

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jun 23 2019 5:57PM
Meerut_201962317579.png

मेरठ. सुरक्षा का दम भरने वाली भाजपा के पदाधिकारी और कार्यकर्ता ही उसके दावों को हवा में उड़ाते नजर आ रहे हैं. ताजा मामला मेरठ के जिला पंचायत अध्यक्ष कुलविंदर सिंह से जुड़ा है. जिन पर झूला ठेकेदार और बिजली ठेकेदारों ने 50 लाख रुपए वसूली का आरोप लगाया है. ठेकेदार ने बताया कि उनका ठेका 1,50,0000 में तय हुआ था, लेकिन झूले चलाने के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष और उनके कार्यकर्ता ने जबरदस्ती 50 लाख रुपयों की मांग की, और जब बिजली ठेकेदार और झूले ठेकेदारों ने इसके लिए मना कर दिया तो जबरदस्ती मेला नौचंदी की बिजली काट दी गई.

जिला पंचायत अध्यक्ष के गुर्गों ने न सिर्फ झूले रुकवा दिए बल्कि उन्होंने झूला कर्मचारियों के साथ मारपीट भी की. खुद जिला पंचायत अध्यक्ष कुलविंदर सिंह झूला रोकते नजर आये. भाजपा सरकार जहां एक तरफ महिला सुरक्षा का दावा करती है वहीं मेले में हजारों महिलाओं के साथ अंधेरे में छेड़खानी जैसी घटनाएं हुई. अगर पुलिस प्रशासन तत्परता नहीं दिखाता और मेले की लाइट सुचारू नहीं कराता तो शायद मेले में बड़ी अनहोनी हो सकती थी.

बिजली ठेकेदार और झूले ठेकेदार अपनी सुरक्षा की गुहार लगाने सरधना विधायक संगीत सोम के आवास पर गए. जहां पर उन्होंने विधायक से अपनी जान का कुलविंदर सिंह से खतरा बताया है.

आपको बता दें कि मेरठ का ऐतिहासिक नौचंदी मेला एशिया में नहीं विश्व में भी प्रसिद्ध है. दूर-दूर से मेला देखने वाले दर्शकों को गंगा जमुनी तहजीब बहुत लुभाती है लेकिन सियासत से जुड़े लोग इस मेले की आबोहवा को खराब करने पर तुले हैं.

जिला पंचायत अध्यक्ष कुलविंदर सिंह और उनके गुर्गों ने जबरदस्ती झूला रोकते वक्त यह भी परवाह नहीं की कि झूले में बैठे लोगों के साथ कोई अनहोनी न हो जाए. जिस समय मेला नौचंदी की लाइट काटी गई उस समय मेले के अंदर हजारों की संख्या में लोग मेला देखने आए थे. मेले की लाइट कटते ही चीख-पुकार मच गई. भाजपा सरकार जहां एक तरफ महिला सुरक्षा का दावा करती है वहीं मेले में हजारों महिलाओं के साथ अंधेरे में छेड़खानी जैसी घटनाएं हुईं. अगर पुलिस प्रशासन तत्परता नहीं दिखाता और मेले की लाइट सुचारू नहीं कराता तो शायद मेले में बड़ी अनहोनी घटना हो जाती. बिजली ठेकेदार और झूले ठेकेदार अपनी सुरक्षा की गुहार लगाने सरधना विधायक संगीत सोम के आवास पर गए जहां पर उन्होंने विधायक से अपनी जान का कुलविंदर सिंह से खतरा बताया है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।