आप यहां हैं : होम» राज्य

संकटमोचन को फिर मिली बम धमाके की धमकी

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Dec 5 2018 4:39PM
sankat mochan_2018125163910.jpg

वाराणसी. धर्म की नगरी काशी शुरू से ही आतंकियों के निशाने पर रही है. ऐसे में यहां पूर्व में संकटमोचन मंदिर, गंगा घाट और स्टेशन पर बम ब्लास्ट हो चुका है. ऐसे में एक बार फिर बनारस में फिजा बिगाड़ने की साजिश हो रही है. इसी कड़ी में संकट मोचन मंदिर में 2006 से भी बड़ा बम धमाका करने की धमकी भरी एक चिट्ठी मिली है. मामले में उच्चाधिकारियों के निर्देश पर लंका थाने में चिट्ठी भेजने वाले जमादार मियां और अशोक यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी है. इसके साथ ही संकट मोचन मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है.

संकट मोचन मंदिर के महंत प्रो. विश्वंभरनाथ मिश्र को सोमवार की रात एक धमकी भरी चिट्ठी मिली थी. चिट्ठी में लिखा था कि मंदिर में मार्च 2006 से बड़ा धमाका करेंगे, और इससे पूर्व हुए ब्लास्ट की जिम्मेदारी भी पत्र भेजने वाले ने ली है. साथ ही धमकी को हल्के में न लेने की चेतावनी भी दी गई है. चिट्ठी मिलने के तुरंत बाद प्रो. मिश्र ने पुलिस के उच्चाधिकारियों को जानकारी दी.

मंगलवार को देर रात लंका थाने में चिट्ठी में दर्ज दोनों नामों पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. महंत ने बताया कि रोजाना डाक के तरीके से यह चिट्ठी आयी है. पत्र में कुछ हथियारों का जिक्र भी था. पुलिस को पत्र दिया गया है. हम लोग इस चिट्ठी के बात से और भी सजग हैं. इस पत्र को हम लोगों ने पूरी गंभीरता से लिया है.

एसएसपी आनंद कुलकर्णी का कहना है कि लेटर में धमकी दी गयी है. मंदिर के संदर्भ के इस मामले को लेकर लंका थाने में मामला दर्ज करते हुए सीओ भेलूपुर को जांच दी गयी. प्रथम दृष्टया यह किसी की शरारत प्रतीत हो रही है. तफ्तीश शुरू करा दी गई है. चिट्ठी भेजने वालों को चिह्नित कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा. मंदिर की सुरक्षा भी बढ़ा दी गयी है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।