आप यहां हैं : होम» अपराध

तीन मासूमों की बेरहमी से गोली मारकर हत्या

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: May 25 2019 6:50PM
bulandshahr_2019525185023.png

बुलंदशहर. यूपी के बुलंदशहर में तीन मासूम बहन भइयों को अगवा कर उनकी निर्ममता पूर्वक गोली मार हत्या कर दी गई, और हत्या के बाद हत्यारों ने शवों को 15 किलोमीटर दूर ले जाकर एक ट्यूबवेल में फेंक दिया. तीन बच्चो के शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और हत्या के कारणों और हत्यारों का सुराग लगाने में जुटी है.

बुलंदशहर के फैसलाबाद में रहने वाले मासूम अब्दुल (10), असमा (11), अलीबा (12) की जिनकी अपहरण करने के बाद गोली मारकर बेरहमी से हत्या कर दी गई. दरअसल अब्दुल, असमा और अलीबा कल शाम अपने घर के बाहर खेल रहे थे कि अचानक गायब हो गए. तीनों बच्चो के गायब होने पर परिजनों ने मामले की सूचना तत्काल बुलंदशहर कोतवाली नगर पुलिस को दी और 100 नंबर पर भी सूचना दी, लेकिन पीड़ित के 100 नंबर कॉल करने और थाने में तहरीर देने के बाद भी बुलंदशहर की लापरवाह पुलिस ने तीनों बच्चो की गुमशुदगी तक दर्ज करना मुनासिब नहीं समझा.

आज सुबह बुलंदशहर नगर से गायब हुए तीनों मासूम बच्चो के शव सलेमपुर थाना क्षेत्र के गांव धतूरी के एक ट्यूबवेल की हौदी में पड़े मिले. जिसके बाद इलाके में सनसनी फैल गयी. तीनों बच्चो की गोली मारकर हत्या की गई थी और पास के खेत में जगह-जगह खोखा कारतूस व खून पड़ा मिला. मामले की जानकारी पाकर इलाके के पुलिस अधिकारी और ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे और पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई. पुलिस ने तीनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं. फिलहाल पुलिस हत्या के कारणों और हत्यारों का सुराग लगाने में जुटी है.

तीन मासूम बच्चो की हत्या के बाद इलाके के लोगों में रोष व्याप्त है. तीनों ही बच्चे एक ही खानदान के एक दूसरे के रिश्तेदार बताए जा रहे हैं. वहीं पुलिस की शुरुआती जांच में मृतक मासूमों के परिवार में छोटी छोटी बातों को लेकर रंजिश की बात सामने आ रही है. जबकि बुलंदशहर एसएसपी इस पूरी घटना का जल्द खुलासा करने का दावा कर रहे हैं. साथ ही एसएसपी ये भी मान रहे हैं कि बुलंदशहर की नगर पुलिस की इस पूरी घटना में बड़ी लापरवाही सामने आई है. बुलंदशहर एसएसपी इस प्रकरण में खुद बुलंदशहर नगर कोतवाली पुलिस की बड़ी लापरवाही मान रहे हैं.

पुलिस अधिकारी भले ही घटना का जल्द खुलासा कर हत्यारों को सलाखों के पीछे भेजने का दावा कर रहे हों, लेकिन बुलंदशहर में कानून के रखवाले कितने लापरवाह हैं वो इस घटना से साफ़ पता चलता है, क्योंकि पुलिस अगर समय रहते कार्रवाई कर देती तो मरने वाले तीनों मासूम आज शायद ज़िन्दा होते, और इसीलिए इस बड़ी लापरवाही के बाद बुलंदशहर एसएसपी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए नगर कोतवाली के प्रभारी ध्रुव दुबे और कोतवाली में तैनात मुंशी को सस्पेंड कर दिया है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।