आप यहां हैं : होम» राज्य

केदारनाथ यात्रा के लिए रास्तों से बर्फ हटाने का काम शुरू

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Mar 10 2019 12:41PM
kedarnath_2019310124138.jpeg

रुद्रप्रयाग. केदारनाथ में भारी बर्फबारी के बीच प्रशासन ने यात्रा की तैयारियां भी शुरू कर दी हैं. जिसके लिए प्रशासन ने केदारनाथ धाम में पैदल मार्ग पर पड़ी बर्फ को हटाना शुरू कर दिया है. ताकि सड़क मार्ग को आवागमन के लायक बनाया जा सके.

इस बार हुई भारी बर्फबारी ने यात्रा शुरू होने से पहले ही मुसीबतें बढ़ा दी हैं. 15 से 20 फीट तक हुई बर्फबारी से केदारनाथ के सभी पैदल मार्ग बंद हो गये हैं. केदारनाथ के निचले इलाकों में भी लगभग 10 फीट बर्फबारी हुई है. ऐसे में इस बर्फ को हटाकर यात्रा कराना प्रशासन के लिए चुनौती बना हुआ है.

रास्तों को आवाजाही लायक बनाने के प्रयास किये जा रहे हैं. केदारनाथ धाम में इतनी बर्फबारी हुई है कि कहीं भी पैदल मार्ग आवाजाही लायक नहीं बचे हैं. पहली बार देखा जा रहा है कि केदारनाथ में स्थित घरों की छतों पर भी पांच फीट से अधिक तक बर्फ जमी हुई है.

केदारनाथ धाम की यात्रा शुरू होने में सिर्फ दो माह का समय बचा है, लेकिन इस बार हुई बर्फबारी ने यात्रा शुरू होने से पहले ही मुसीबतें बढ़ा दी हैं. धाम में 15 से 20 फीट के बीच बर्फबारी हुई है. बर्फबारी के कारण केदारनाथ के सभी पैदल मार्ग बंद हो गये हैं. कहीं भी कोई रास्ता आवाजाही लायक नहीं है. केदारनाथ से नीचे पैदल मार्ग पर भी 10 फीट से अधिक बर्फबारी हुई है. बर्फबारी के कारण केदारनाथ में स्थित बिजली और पेयजल की सभी लाइनें पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई हैं.

केदारनाथ धाम में मनुष्य की हाइट तक के ग्लेशियर बने हुये हैं. जिन्हें मजदूरों द्वारा साफ किया जा रहा है. छत में लगे डिश-एंटीना भी पूरी तरह बर्फ में ढंके हुये हैं. बर्फबारी के बीच रास्तों का कहीं कुछ पता नहीं है.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।