आप यहां हैं : होम» धर्म-कर्म

कुम्भ मे बना 52 बीघे का अदभुत शिविर

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Jan 20 2019 12:45PM
Kumbh-pryagraj_2019120124545.jpg

इलाहाबाद. संगमनगरी प्रयागराज में प्रभु प्रेमी संघ शिविर लोगों को अपनी भव्यता और आधुनिकता से आकर्षित कर रहा है. जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानन्द गिरी जी का यह शिविर 52 बीघे में बना है. जिसे एक किले का रूप दिया गया है. जिसमें दो मंदिर हनुमानजी और गणेश जी के बने हैं. साथ ही यज्ञशाला व सांस्कृतिक मंचन और एक 30 बेड का अत्याधुनिक अस्पताल बनाया गया है. अस्पताल में  इलाज से लेकर मरीजों को भर्ती करने और दवा वितरण तक की सभी सुविधाएं नि:शुल्क हैं.

कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं, साधू-संतों और बुजुर्गों सभी के लिए नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था की गई है. इस शिविर के अस्पताल में  बाहर से आये डाक्टरों की टीम यहाँ लोगों को सेवाएं दे रही है. 2013 में भी यह शिविर लगा था और उससे भी पहले कुंभ में श्रद्धालुओं को सेवायें देता रहा, लेकिन इस बार 2019 में काफी बड़े क्षेत्रफल में बनने और अपनी भव्यता के कारण लोगों को काफी आकर्षित कर रहा है.

मकर संक्रांति से शुरू हुआ शिविर अपने आप में अनोखा है. कुंभ में शायद ही कोई ऐसा शिविर हो जिसमें प्रभु प्रेमी संघ शिविर जैसा आकर्षण हो. शिविर में चारों वेदों की ऋचाओं और हवन के लिए यज्ञशाला और लोगों के दर्शन पूजन के लिये दो बड़े मंदिर की व्यवस्था की गई है. इस शिविर की भव्यता देखने से थोड़ा भी एहसास नहीं होता कि ये अस्थाई तौर पर बनाया गया है. यह शिविर कुंभ मेले मे 15 फरवरी तक रहेगा और लोगों के आकर्षण का केन्द्र बना रहेगा.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।