आप यहां हैं : होम» राज्य

उत्तराखंड : बीजेपी और कांग्रेस में है सीधा मुकाबला

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Apr 8 2019 4:04PM
uttrakhand_20194816429.jpg

देहरादून. लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण के मतदान के लिए महज 2 दिन ही रह गए हैं. उत्तराखंड में पहले चरण में मतदान होना है. ऐसे में सियासी दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. उत्तराखंड की पांच लोकसभा सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है. पिछले पांच सालों से देश की सत्ता पर काबिज बीजेपी 'राष्ट्रवाद' के मुद्दे को प्रमुख हथियार के रूप में इस्तेमाल कर रही है. रैलियों में पीएम मोदी और अमित शाह के साथ ही तमाम नेता 'राष्ट्रवाद' का खुलकर जिक्र कर रहे हैं. साथ ही अपनी तमाम योजनाओं को लेकर जनता के बीच हैं. वहीं प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस मोदी सरकार की पिछले पांच साल की नीतियों को गलत बताते हुए जनता के सामने हैं. रैलियों में राहुल गांधी, सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी समेत तमाम नेता बीजेपी के राष्ट्रवाद और विकास के नारे पर हमला बोल रहे हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 के चुनावी दंगल में जीत हासिल करने के लिये राष्ट्रीय दल भाजपा और कांग्रेस एक दूसरे पर मुद्दों के अस्त्र-शस्त्रों से हमला कर रहे हैं. बात करें पिछले पांच सालों से देश की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी की तो वह राष्ट्रवाद के मुद्दे को प्रमुख हथियार के रूप में इस्तेमाल कर रही है. भाजपा की तमाम रैलियों में उसके स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ ही तमाम नेता राष्ट्रवाद का जिक्र खुलकर कर कर रहे हैं.

इसके साथ ही भाजपा मोदी सरकार के पिछले 5 साल के कार्यकाल में शुरू की गई तमाम योजनाओं को लेकर जनता के बीच है. इनमें किसानों को सम्मान निधि दिये जाने, महिलाओं की सुरक्षा, रोजगार, शौचालय निर्माण, स्वच्छ भारत के साथ ही अटल आयुष्मान और उज्जवला योजना का इस्तेमाल भाजपा नेता प्रमुख रूप से अपने भाषणों में कर रहे हैं. उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी के लोकसभा प्रभारी और पूर्व केन्द्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत भी इस बात को स्वीकार करते हैं कि इस बार का चुनाव देश की आन बान शान और विकास के नाम पर लड़ा जा रहा है.

भारतीय जनता पार्टी जहां राष्ट्रवाद के नारे के साथ आगे बढ़ रही है. वहीं प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस मोदी सरकार की पिछले पांच साल की नीतियों को गलत बताते हुए जनता के सामने है. कांग्रेस की तमाम रैलियों में उसके स्टार प्रचारक राहुल गांधी, सोनिया गांधी, व प्रियंका गांधी समेत तमाम नेता भाजपा के राष्ट्रवाद और विकास के नारे पर हमला बोलने के साथ ही मोदी सरकार द्वारा किये गये अच्छे दिनों और जनता के साथ किये गये 15-15 लाख देने वायदे पर सवाल खड़ा कर इसे जनता के साथ बड़ा धोखा करार दे रहे हैं.

कांग्रेस के उत्तराखंड प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह कहते हैं कि कांग्रेस न्यूनतम आय गांरटी, किसानों, नौजवानों, मजदरों, के मुद्दों को लेकर चुनाव लड़ रही है. प्रदेश प्रभारी ने कहा कि भाजपा ने जनता से झूठ बोला लेकिन कांग्रेस न्यूनतम आय गांरटी से देश से गरीबी दूर करेगी.

उत्तराखंड में स्थानीय मुद्दों पर राष्ट्रीय मुद्दे हावी हैं। राष्ट्रवाद और विकास के मुद्दे पर आगे बढ़ रही भाजपा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक मजबूत, निडर और ईमानदार शासक के तौर पर पेश कर रही है. साथ ही उत्तराखंड के विकास का दावा कर रही है. वहीं कांग्रेस राफेल के अलावा रोजगार, किसान आदि ऐसे मुद्दों को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोल रही है. यह बात अभी समय के गर्भ में है कि वोटरों पर इनका असर कितना होगा.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।