आप यहां हैं : होम» विदेश

... और फिर से चल पड़ी यासीनिया हर्रेरा की सायकिल

Reported by nationalvoice , Edited by shabahat.vijeta , Last Updated: Nov 9 2018 10:46AM
cycle_2018119104647.jpg

मुजफ्फरनगर. बुधवार की शाम को साईकल यात्रा कर रही स्पेन की रहने वाली एक विदेशी को यसीनिया हर्रेरा फेबल्स को एक अज्ञात कार ने टक्कर मार दी. जिससे विदेशी महिला की साईकल क्षतिग्रस्त हो गई. जिसके कारण उसकी यात्रा बीच में ही रुक गई. विदेशी महिला प्रदूषण और स्वास्थ्य के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिए यह साईकल यात्रा कर रही है.

यसीनिया हर्रेरा फेबल्स साईकल के द्वारा दिल्ली से ऋषिकेश जा रही थी. विदेशी महिला यसीनिया हर्रेरा फेबल्स की मदद नुमाईश कैम्प कॉलोनी निवासी विशाल ने की. यसीनिया हर्रेरा फेबल्स ने एक्सीडेंट के बाद अपनी साईकल को साईकल मैकेनिक को दिखाई, मगर मैकेनिक यसीनिया हर्रेरा फेबल्स की साईकल विदेशी होने की वजह से उसे ठीक नहीं कर पाया. उसके बाद यसीनिया हर्रेरा फेबल्स ने साईकल की कम्पनी में फोन पर स्पेयर पार्ट्स मांगने के लिए बात की, मगर कम्पनी ने स्पेयर पार्ट्स उपलब्ध कराने के लिए तीन दिन का समय दिया. यात्रा रुक जाने से यसीनिया हर्रेरा फेबल्स हताश हो गई. जिसके बाद निशाल यसीनिया हर्रेरा फेबल्स को अपने घर ले गया और अपने परिवार के साथ रखा. जहाँ विशाल ने विदेशी महिला को रहना, खाना, सोना और सभी सुविधाएं मुहैया कराईं.

कल दीपावली का त्यौहार था जिसको यसीनिया हर्रेरा फेबल्स ने भी विशाल के परिवार के साथ भारतीय परिधान पहनकर लक्ष्मी पूजन में हिस्सा लिया और विशाल की फैमली के साथ दीपावली का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया. आज दिन निकलते ही मार्केट खुलने के बाद विशाल और उसके पिता अशोक, यसीनिया हर्रेरा फेबल्स की साईकल को मीनाक्षी चौक स्थित अनीस वैल्डर की दुकान पर ले गए जहाँ अनीस ने घंटों की मेहनत के बाद साईकल के पहिये को रिपेयर कर दिया और रिपेयरिंग के पैसे देने पर अनीस ने विदेशी महिला से पैसे लेने से इंकार कर दिया.

साईकल रिपेयर कराने के बाद विशाल की फैमली ने यसीनिया हर्रेरा फेबल्स की यात्रा को दोबारा से शुरू करा कर आगे के लिए रवाना कर दिया. जाने से पहले यसीनिया हर्रेरा फेबल्स ने मदद करने वाले परिवार का तहे दिल शुक्रिया किया, और भारत और भारतीयों की जमकर तारीफ की. यहाँ मीडिया से बात करते हुए यसीनिया हर्रेरा फेबल्स ने बताया कि वह पेशे से एक नर्स है. भारत आने से पहले साईकल द्वारा 12 से जयादा देशों का सफर कर चुकी है. साईकल से सफर बहुत की आसान और सस्ता है. इस दौरान लोगों से मिलने और नेचर को जानने का मौका मिलता है. फेबल्स ने बताया कि वह थोड़ी बहुत सेविंग मनी अपने साथ लेकर सफर कर रही है. उसको ज्यादा पैसों की जरुरत नहीं है, क्योंकि वह न तो होटल में रुकती है और न ही रेस्टोरेंट जाती है, और अगर पैसे खत्म हो जाते हैं तो कहीं नौकरी करके अपना आगे का सफर जारी रख सकती है.

यसीनिया हर्रेरा फेबल्स के सफर की मंजिल कोई निश्चित नहीं है. उसके अनुसार अगर उसे महसूस हुआ कि वह थक चुकी है तो वह अपनी फैमली के पास स्पेन लौट जाएगी और एक ब्रेक लेने के बाद फिर से दुनिया के सफर पर निकल पड़ेगी.

यसीनिया हर्रेरा फेबल्स की मदद करने वाले भारतीय विशाल ने बताया कि कल इनकी साईकिल में टक्कर लग गई थी. साईकिल का पहिया टूट गया था. तो यह मुझे सड़क पर मिलीं. बड़ी ही परेशान हो रही थीं. इन्होंने मुझसे कहा कि मेरी हेल्प कर दीजिये. लेंग्वेज प्रॉब्लम इनके सामने बहुत आ रही थी. क्योंकि इंग्लिश बोलने वाला कोई नहीं मिल रहा था. कल मैंने इनकी हेल्प की. पता कराया साईकिल के पहिये के बारे में लेकिन इनकी जो साईकिल है वह इंपोर्टिड है. तो उसका पहिया अभी एरेंज नहीं हो पाया है. कंपनी से बात हुई है. उन्होंने कहा है कि 3-4 दिन में एरेंज करा देंगे. उसके बाद इन्हें रात को रुकना था तो हमने रुकने में इनकी हेल्प की है. आज इनकी साईकिल रिपेयर कराई है, आज इन्हें ऋषिकेश जाना है. यह दिल्ली से चली हैं. ऋषिकेश जाने वाली हैं. बेसिकली यह स्पेन की रहने वाली हैं. इन्होंने मुझे साईकिल चलाने के बारे में बताया कि एक तो वातावरण दूसरा बहुत अच्छा फील होता है और सेहत के लिए बहुत अच्छा है. दूसरा यह कि मुझे ज्यादा लोगों से बोलने को मिलता है. एक यह भी उद्देश्य इन्होंने बताया कि इससे महिला सशक्तिकरण का अवसर उन्हें मिलेगा. ताकि महिलाओं को समाज में कोई दिक्कत न हो, यह भी एक सन्देश देना चाहती हैं.

कल इन्होंने हमारे साथ दीवाली भी मनाई. इंडियन फ़ूड खाया. भारतीय पहनावा भी इन्होंने पहना, और काफी हिंदी की बातें भी सीखीं. इनका कहना है कि मैं भारत को जानना चाहती हूँ. भारत में बहुत सारे कल्चर है उन सभी को जानना चाहती हूँ. भारत और भारतीय बहुत अच्छे हैं.


देश-दुनिया की अन्य खबरों और लगातार अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।